भिलाई। (वि)

शहरी क्षेत्रों में होने वाले नगरीय निकायों के चुनाव में वार्डो के आरक्षण में दूसरे राज्यों से आकर वर्षो से बस चुके एससी,एसटी और ओबीसी वर्ग के मतदाता चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। बीजेपी की रमन सरकार ने 2014 और 2015 के नगरीय निकायों के चुनाव के दौरान इस पर रोक लगा रखी है।

कांग्रेसी नेता अलीह हुसैन सिद्दीकी ने बताया कि पहले दूसरे राज्यों से आकर यहां बस चुके एससी, एसटी और ओबीसी के मतदाताओं को आरक्षण का लाभलेते हुए अपने वर्ग से चुनाव लड़ने का अवसर मिलता था। चूंकि नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायत शहरी क्षेत्र होता है जहां सभी राज्य के लोग मिनी भारत के रूप में निवास करते हैं और क्षेत्र के विकास में भागीदार होते है कई वर्षों से छत्तीसगढ़ में मध्यप्रदेश,महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, बिहार,आंध्र प्रदेश, उड़ीसा व अन्य राज्यों से आकर लोग हमेशा के लिए बस चुके है इसलिए सभी को आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network