भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

बीएसपी आवासों में हो रहे अवैध कब्जों को रोकने यूनियन ने कर्मियों को ट्विंस क्वाटर (दो क्वाटर) आंवटन का सुझाव प्रबंधन को दिया है। टाउनशिप की विभिन्ना समस्याओं को लेकर प्रबंधन के साथ बैठक में इस्पात श्रमिक मंच यह बात रखी। आवास आवंटन नियम में कर्मचारियों के हित देखते हुए परिवर्तन, पूरे टाउनशिप में आवास मेंटेनेंस कार्य में तेजी, बुश कटिंग में देरी व स्कूलों की सफाई के मुद्दा भी इस बैठक में यूनियन ने उठाया। प्रबंधन की ओर से इन मुद्दों पर ठोस पहल का आश्वासन दिया गया।

भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारी आवास एवं टाउनशिप समस्यां को लेकर परेशान हैं। अवैध कब्जा एक बड़ी समस्या के रूप में कर्मियों के सामने है। लगभग सभी यूनियन अपने अपने स्तर पर मुद्दा उठा रहे हैं। इस्पात श्रमिक मंच यूनियन ने भी विभिन्न मुद्दों को लेकर भिलाई इस्पात संयंत्र के जीएम टाउनशिप पीके घोष के साथ बैठक की। इस उच्च स्तरीय बैठक में प्रबंधन की ओर से जीएम इलेक्ट्रिकल दिनेश कुमार, जीएम सिविल सुब्रत प्रहराज ,जीएम पीएचई एसएन सतपति, डीजीएम पीएचडी केके यादव, सीनियर मैनेजर सिविल बसंत साहू, सीनियर मैनेजर आवास आवंटन आर गर्ग भी उपस्थित थे। वहीं यूनियन की ओर से मुकुंद गंगवेर, प्रताप सिंह गंजीर, अरुण कुमार सारवां, सुभाष महाराणा, रेजी नायर, गणेश राव, राजेश महाजन,विनोद सागरकर, पीके विश्वास भी उपस्थित थे।

एक वर्ष के बैन की बाध्यता हटे

आवास आबंटन नियम में कर्मचारियों के हित में परिवर्तन करने पर इस्पात श्रमिक मंच के महासचिव राजेश अग्रवाल ने जोर दिया। उन्होंने कहा कि आवास आवंटन नहीं लेने पर कर्मचारियों को एक वर्ष के लिए बैन कर दिया जाता है। जो कि गैर जरूरी है। इसे बंद किया जाए। कर्मचारी के आवास आवंटन के ग्रेड को बढ़ाया जाए। स्थाई मेडिकल अनफिट कर्मचारियों के आश्रितों को दो ग्रेड ऊपर मकान दिया जाए। पारिवारिक या स्वयं के मेडिकल अनफिट पर एक ग्रेड ऊपर मकान दिया जाए। पूर्व की तरह सब्जेक्ट टू वेकेशन आवास आबंटन प्रक्रिया शुरू हो।

-अवैध कब्जा रोकने उठाएं यह कदम

मंच ने बीएसपी प्रबंधन से इस मांग पर विशेष जोर दिया कि, टाउनशिप प्रबंधन रिसाली सेक्टर के दो क्वाटर एक साथ (ट्विंस रूप में) नए एवं कम ग्रेड के कर्मचारियों को आबंटन करें। मंच ने तर्क दिया कि इससे अवैध कब्जे की समस्या से बचा जा सकेगा। मंच के इस सुझाव पर प्रबंधन ने कहा कि यह अच्छा विचार है। जिस पर हम आगे अवश्य काम करेंगे। अन्य सेक्टरों में भी इस पर पहल हो सकती है।

-मेंटेनेंस में लाएं तेजी

आवासों के मेंटेनेंस में देरी से शिकायती आवेदनों का आंकड़ा दिनों दिन लंबा होते जा रहा है। उप महासचिव किशोर मराठे ने अधिक मेंटेनेंस ग्रुप लगाने की मांग की। प्रबंधन ने कहा कि इस बार ज्यादा पार्टी को काम दिया जा रहा है।

टार फेल्टिंग भी समस्या

टार फेल्टिंग का मुद्दा भी बैठक में उठा। यूनियन के सचिव विमलकांत पांडेय ने प्रबंधन से कहा कि वर्तमान में मौसम खुला हुआ है। प्रबंधन ने स्पष्ट किया कि आने वाले महीनों में टार फेल्टिंग की शिकायत पूरी तरह दूर हो जाएगी।

-स्कूलों में नहीं हो रही नियमित सफाई

मंच उपाध्यक्ष यशवंत एवं सचिव पापाराव ने कहा टाउनशिप में नियमित बुश कटिंग नहीं हो रही है। सभी स्कूलों में नियमित कचरा नहीं उठाने से भी दिक्कत हो रही है। कई सेक्टर में बैकलेन सफाई भी नहीं हुई।

-एकमात्र वाइन शॉप की सड़क की भी हो मरम्मत

सिविक सेंटर स्थित टाउनशिप की एकमात्र शराब दुकान की सड़क जर्जर हो गई है। राहगीर आते-जाते समय गिरकर चोटिल हो जाते हैं। बरसात के दिनों में सड़क के गड्ढों में पानी भर जाता है। तब समस्या और भी विकराल हो जाती है।

बिजली बिल की भी मुद्दा उठा

उप महासचिव दीपक सोनी ने छत्तीसगढ़ बिजली कंपनी के उपभोक्ताओं की भांति टाउनशिप सेक्टर में भी बिजली बिल को आधा किया जाए। प्रबंधन ने कहा कि इस मुद्दे पर एक उच्च स्तरीय बैठक रायपुर में बिजली कंपनी के उच्च प्रबंधन से हो चुकी है।

इन पर भी दिलाया ध्यान

- सेक्टरों में इस्पात क्लब की बुकिंग ऑनलाइन हो

- मॉडल स्कूलों की संख्या बढ़ाई

- सड़कों के ब्रेकर हटाने से हुए गड्ढे को भरें

- वेलकम स्कीम को तेजी से पूरा करें

- बिजली चोरी रोकने हो पहल

Posted By: Nai Dunia News Network