भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

भिलाई में मौर्या टॉकीज तथा प्रियदर्शिनी परिसर स्थित दोनों अंडरब्रिज एक तरह से भिलाई के सबसे व्यस्तम मार्गों में से एक है। टाउनशिप से लेकर सुपेला एरिया तक रोजाना हजारों लोग आना जाना करते हैं, पब्लिक सुविधा के हिसाब से बनाए गए यह अंडरब्रिज अब लोगों को रात में डराने लगा है।

बता दें कि दोनों ही अंडरब्रिज में रात के समय अंधेरा पसरा रहता है। अंधेरे की वजह से कब क्या हादसा हो जाए कहा नहीं जा सकता है। ऐसा नहीं है कि दोनों अंडरब्रिज में लाइट नहीं है, लाइट तो हैं पर इसके संधारण पर ध्यान नहीं दिया जाता है। दोनों ही अंडरब्रिज में लगी लाइटें महीनों से बंद पड़ी है। रात के समय डरावना लगने वाले इस अंडरब्रिज से लोग अब आने जाने से भी डरने लगे हैं। दरअसल रात के समय यहां हादसे का डर तो बना ही रहता है, साथ ही आसामाजिक तत्वों की सक्रियता से भी लोग भयभीत रहते हैं।

हादसे का डर

रात के समय अंधेरे की वजह से तेज लाइट वाले वाहनों से मोटर साइकिल चालक अक्सर हड़बड़ा जाते हैं। ऐसा अक्सर होता है। दूसरी तरफ से आने वाले चार पहिया वाहनों की लाइट तेजी से बाइक चालकों की आंखों में पड़ती है।

आसामाजिक तत्व सक्रिय

रात के समय अंडरब्रिज में आसामाजिक तत्व सक्रिय रहते हैं। कई बार तो बाईकर्स लोगों को डराते हैं। अंडरब्रिज में तेज आवाज करते हुए आना जाना करते हैं। रात 11 बजे के बाद लोगों को यहां से गुजरना में डर लगने लगा है।

लाइट संधारण की मांग

इस अंडरब्रिज से रोजाना गुजरने वाले लोगों ने लाइट संधारण की मांग की है। दरअसल बीते कुछ महीने से यह मांग रोजाना की जा रही है, पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। लिहाजा लोगों का आक्रोश भी बढ़ता जा रहा है।

1.लाइट संधारण की मांग-सिन्हा

कई महीनों से दोनों अंडरब्रिज की लाइट फ्यूज है। हमने निगम प्रशासन को आवेदन देकर लाइट संधारण की मांग की है।

-भोजराज सिन्हा, जोन अध्यक्ष, जोन एक नेहरू नगर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan