भिलाई। नगर निगम भिलाई द्वारा बारिश पूर्व सफाई को लेकर झूठा दावा किया जा रहा है। निगम के प्रमुख नालों की सफाई को लेकर निगम का दावा है कि अब तक पहले चरण की सफाई हो चुकी है लेकिन हकीकत कुछ और ही है। मुख्य नाले गंदगी से पटे पड़े हैं और जगह जगह कचरा जाम पड़ा हुआ। निगम के लगभग सभी जोन में सफाई का यही हाल है।

हर वर्ष बारिश के पहले प्री मानसून सफाई के नाम पर नगर निगम द्वारा सभी वार्डों में सफाई कराई जाती है। पिछले वर्ष तक किवार कंपनी द्वारा सफाई का पूरा काम किया जा रहा था। किवार के जाने के बाद नगर निगम ने व्यवस्था स्वयं संभाल ली है। बारिश पूर्व शहर में प्रमुख नालों की सफाई का काम पिछले माह भर से किया जा रहा है इसके बाद भी सफाई नहीं हो पा रही है। जबकि निगम द्वारा सफाई के लिए सारे संशाधन झोंक दिए गए हैं।

11 सौ कर्मी लगे हैं सफाई में

नगर निगम के सफाई काम में कुल 11 सौ सफाई कर्मियों को लगाने का दावा किया जा रहा है। निगम के सभी वार्डों की 30-30 का गैंग बनाकर सफाई कराने में निगम अमला जुटा है। सफाई के लिए निगम द्वारा 6 जेसीबी मशीन, आठ डंपर, एक चेन मांउटेन व 40 पिकअप को लगाने का दावा किया जा रहा है। निगम द्वारा कोसा नाला, लक्ष्मी नगर सुपेला नाला, खुर्सीपार तेल्हा नाला व सुपेला का मेन ड्रेनेज को पूरी तरह साफ करने का दावा किया जा रहा है। लेकिन उक्त सभी नालों का जायजा लिया गया तो निगम के दावों की हकीकत सामने आ गई। उक्त सभी नालों में कचरे का अंबार दिखा।

यह है नजारा

1. कोसा नाला

कोसा नाले की सफाई निगम द्वारा पिछले कई दिनों से कराई जा रही है। इसकी सफाई के लिए चेन माउंटेन का भी सहारा लिया जा रहा है इसके बाद भी सफाई न के बराबर हुई है। नाले में दूर दूर तक कचरे का अंबार है और निगम का कहना है कि नाले की पूरी सफाई करा ली गई है।

2. तेल्हा नाला खुर्सीपार

तेल्हा नाला खुर्सीपार की स्थिति कोसा नाले से भी खराब है। नाले में कचरे के साथ मरे हुए जानवरों को भी फेंक दिया गया है। इस नाले को देखकर ऐसा लग रहा है कि इसकी अब तक सफाई शुरू नहीं की गई है। वार्ड 28 से होकर कुल 7 र्वार्डों से गुजरने वाले नाले की सफाई भी लचर है।

3. जीई रोड का नाला

राम नगर से मौर्या चंद्रा चौराहा होते हुए कोसा नाला तक जाने वाले मुख्य ड्रेनेज की सफाई भी नहीं हुई। बारिश के पहले इस नाले की भी सफाई का दावा निगम द्वारा किया गया लेकिन इस नाले को देखकर भी नहीं लगता की इसकी सफाई हुई है। जबकि यह प्रमुख नालों में से एक है।

4. लक्ष्मीनगर नाला

सुपेला के पांच वार्डों को जोड़ने वाला एकमात्र बड़ा नाला होने कारण बारिश के पूर्व इसकी सफाई भी जरूरी है। निगम ने प्रथम चरण में इस नाले की भी सफाई का दावा किया गया लेकिन इस नाले की भी स्थिति भी बदतर है। खासकर लक्ष्मीनगर व फरीद नगर क्षेत्र में इसे देख पाना मुश्किल है।

सीधी बात नरेन्द्र दुग्गा आयुक्त नगर निगम भिलाई

बारिश के पहले सफाई की क्या स्थिति है?

- बारिश के पहले प्री मेंटेनेंस के लिए निगम द्वारा सफाई अमले को लगाया गया है। सभी वार्डों में गैंग लगाकर काम कराया जा रहा है।

मुख्य नालों की सफाई का दावा है लेकिन सफाई पूरी नहीं हुई?

- कोसानाले की सफाई काफी हद तक कर ली गई है। कुछ जगह पर सफाई बाकि है उसे कराया जा रहा है।

अन्य प्रमुख नालों की सफाई भी नहीं हुई है इसे लेकर क्या कहेंगे?

- सभी नालों की सफाई के लिए कर्र्मचारी संशाधनों के साथ लगाए गए हैं। बारिश के पहले सभी नालों की सफाई करा ली जाएगी।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close