भिलाई, नईदुनिया प्रतिनिधि। भिलाई टाउनशिप में इन दिनों डेंगू से बचाव के तरीके बताए जा रहे हैं। साथ ही यहां पर स्प्रे आदि कर डेंगू रोग से लोगों को बचाने के उपाय किए जा रहे हैं। इसी दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि, डेंगू के डंक से बचना है तो एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं। भिलाई इस्पात संयंत्र का दावा है कि इसके टुकड़े को एक कपड़े में बांध कर कूलर के पानी के बीचों बीच रखें या पानी में लटकाने से डेंगू का लार्वा नहीं पनपता। लार्वा नहीं पनपने से बीमारी से बचा जा सकता है।

भिलाई टाउनशिप में डेंगू का लार्वा लगातार कहीं न कहीं मिल ही रहा है। बार-बार जागरूक करने के बाद भी परिवार के बड़े और जिम्मेदार मान नहीं रहे हैं। खुद कूलर की साफ-सफाई नहीं कर रहे। इसलिए डेंगू का लार्वा भी मिल रहा है। बीएसपी ने बच्चों को जागरूक करने की मुहिम शुरू कर दी है। इससे हर परिवार में डेंगू से बचाव के लिए संदेश पहुंच रहा है। बच्चे को जिम्मेदारी दी जा रही है कि वे रोज सुबह-शाम कूलर की खुद ही जांच करें। जागरुकता से ही डेंगू के प्रकोप से बचा जा सकता है।

पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से आपरेशन डॉन चलाया जा रहा है। लोगों से कूलर का पानी खाली रखने या उसमे टेमीफास दवा डालने की अपील की जा रही है। सीमेंट की टंकी की पानी प्रत्येक छह दिनों में खाली करने की सलाह दी जा रही है। जल-जमाव वाले स्थान पर जला हुआ ऑयल या कोई भी घर में उपलब्ध तेल डालने को कहा गया है।

मंगलवार को पीएचडी द्वारा सेक्टर-10 में डेंगू रोकथाम और नियंत्रण अभियान चलाया गया। इसके तहत फील्ड स्प्रे, हाउस स्प्रे, स्पेड वर्क, प्लांट स्प्रे और फॉगिंग किया गया। प्लांट स्प्रे के तहत प्लेट मिल एरिया-3, तथा कोक ओवन में स्प्रे किया गया। बरसात के कारण कार्य में बाधा भी आया।

बच्चों को बताया डेंगू से कैसे बचें

पीएचडी की एक दूसरी टीम द्वारा सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-10, इंग्लिश मध्यम मिडिल स्कूल सेक्टर-7 और सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-8 में डेंगू रोकथाम के लिए बच्चों और शिक्षकों के बीच जागरुकता अभियान चलाया गया। डेंगू से कैसे बचें व इसके रोकथाम के विषय में जानकारी दी गई।

अभियान में पार्षद सुभद्रा सिंह, अंकुश पिल्लै भी क्षेत्रीय नागरिकों संग सक्रिय रहे। विशेष अभियान अब तक सेक्टर-1, 2, 3, 4, 5, 6 व 10 में चलाया गया है। बाकी सेक्टर्स में भी ये अभियान चलाया जाएगा। अभियान में सहायक महाप्रबंधक केके यादव, उपप्रबंधक वीके भोंडेकर, उप प्रबंधक एके बंजारा, डीके मिश्रा, एसएस सिन्हा, हेल्थ इंस्पेक्टर रत्नाकर दलाई, कामता प्रसाद, राजेन्द्र जैन, जगन्नाथ, सिम्मैया, रामलु शामिल रहे।

Babulal Gaur Passes Away : मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम बाबूलाल गौर का भोपाल में निधन

Babulal Gaur Passes Away : मजदूर नेता से सीएम तक, ऐसा रहा बाबूलाल गौर का राजनीतिक सफर