भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि। टाउनशिप में लगातार हो रही चेन स्नेचिंग की घटनाओं से मॉर्निंग वॉक पर निकलने वाली महिलाओं में खौफ व्याप्त हो चुका है। बदमाशों के डर से कई महिलाओं ने जेवर पहनना ही बंद कर दिया है। वहीं अधिकांश महिलाएं तो अब मॉर्निंग वॉक पर जाने से ही परहेज कर रही हैं। लगातार हो रही चेन स्नेचिंग की घटनाओं के बाद आरोपितों की गिरफ्तारी न होने से भी लोगों में भय का माहौल है। वहीं पुलिस की कार्यशैली पर भी प्रश्नचिन्ह लग रहे हैं।

बता दें कि महीने भर में सिर्फ टाउनशिप में ही करीब चार महिलाओं से चेन स्नेचिंग की घटनाएं हुई हैं। बदमाशों ने सिर्फ वृद्ध महिलाओं को निशाना बनाया है। सभी मामलों की भिलाई नगर थाने में रिपोर्ट भी दर्ज है। लगातार हो रही घटनाओं के बाद भी पुलिस, आरोपितों को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है।

इससे आम लोगों में भय का माहौल बन गया है। टाउनशिप में रोजाना मॉर्निंग वॉक पर निकलने वाली महिलाओं ने अब गहने और मंगलसूत्र ही पहनना बंद कर दिया है। वहीं कुछ दिनों पहले तक जिन स्थानों पर मॉर्निंग वॉक करने वालों की भीड़ रहा करती थी, वहां पर गिनती के ही लोग निकल रहे हैं। बदमाशों से भयभीत अधिकांश महिलाओं ने अब मॉर्निंग वॉक ही बंद कर दिया है।

सावधानी भी जरूरी

अभी तक चेन स्नेचिंग की जो भी घटनाएं हुई हैं, उनमें अलग-अलग आरोपितों के होने की जानकारी मिली है। आरोपितों को पकड़ने के लिए एक अलग से टीम गठित कर दी गई है। इसके अलावा आम लोगों से भी अपील है कि वे कुछ सावधानियां बरतें। जरूरी हो तो ही गहने पहनकर निकलें। यदि मॉर्निंग वॉक पर भी निकल रहे हैं तो समूह में रहें। ताकी ऐसी घटनाओं की आशंका कम रहे। - प्रखर पांडेय, एसपी दुर्ग

देश में पहली बार रायपुर में निकली 15 किमी लंबे तिरंगे की रैली

छत्तीसगढ़ की यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम की गूंज दिल्ली तक, देशभर में हो सकता है लागू