भिलाई । भिलाई इस्पात संयंत्र ने अवैध कब्जाधारियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। खुर्सीपार में फोरलेन के किनारे संयंत्र की बेशकीमती जमीन पर बीते 18 साल से अवैध रूप से काबिज महालक्ष्‌मी ट्रेडिंग (एमएलटी) और चंद्रा हैवी लिफ्टर्स के यार्ड एवं कार्यालय को सील कर दिया। उक्त जमीन की कीमत 11 करोड़ से भी अधिक बताई जा रही है। कार्रवाई के दौरान भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवाएं विभाग के अमला के साथ ही पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे। कार्रवाई के

दौरान विरोध की स्थिति भी बनीं परंतु भिलाई इस्पात संयंत्र के अधिकारियों के सामने उनकी एक भी नहीं चली। इस कार्रवाई से संयंत्र की जमीनों पर अवैध रूप से काबिज अन्य रसूखदार अवैध कब्जाधारियों में भी हड़कंप है।

जमीन पर अवैध रूप से काबिज : भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग के प्रवर्तन विभाग के अनुसार खुर्सीपार में फोरलेन के किनारे बीएसपी की जमीन है। तेलहा नाला के समीप स्थित महालक्ष्‌मी ट्रेडिंग और चंद्रा हैवी लिफ्टर्स का यार्ड और कार्यालय भी बीएसपी की जमीन पर संचालित है।

बीएसपी का दावा है कि उक्त बेशकीमती भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया था। इस परिसर को खाली करने के लिए बीएसपी के संपदा न्यायालय में मामला भी चला। इसके बाद संपदा न्यायालय द्वारा 18 साल पहले सन 2004 में डिक्री पारित किया गया था। इस डिक्री के परिपालन में आज बीएसपी नगर सेवाएं विभाग द्वारा भूमि को अपने कब्जा में लेने आज कार्रवाई की गई।

बीएसपी ने दी चेतावनीः नगर सेवाएं विभाग के प्रवर्तन विभाग द्वारा लगातार बीएसपी भूमि पर अवैध कब्जाधारियों के खिलाफ मुहिम चलाई जा रही है।

खुर्सीपार क्षेत्र में लोगों ने बीएसपी की भूमि पर अवैध कब्जा करने लोग लगातार प्रयासरत हैं। इसे देखते हुए ही प्रवर्तन विभाग द्वारा कब्जाधरियो के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

प्रवर्तन विभाग ने यह स्पष्ट किया कि भिलाई इस्पात संयंत्र की देनदारियों का शीघ्र भुगतान करें और किसी भी प्रकार का अवैध कब्जा, मकान व आवास को शीघ्र

छोड़ दें अन्यथा इस प्रकार की कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close