भिलाई। टाउनशिप में अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ अभियान शनिवार को भी जारी रहा। रिसाली क्षेत्र में आठ आवासों को खाली कराया गया। इन आवासों को आवंटियों को सौंपा गया। इसके अलावा 25 और अवैधकब्जाधारियों को नोटिस जारी किया गया।अवैध कब्जेधारियों के विरुद्घ लगातार चलाये जा रहे बेदखली अभियान के तहत भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवायें विभाग के प्रवर्तन विभाग की टीम ने आज भी बड़ी कार्रवाई की। प्रवर्तन विभाग की टीम ने आठ आवासों को अवैध कब्जेधारियों से खाली करवाया गया।

खाली आवासों को सील किया गया तथा चाबी रखरखाव कार्यालय एवं अलाटी को सौंपा गया। एक आवास के लिए संपदा न्यायालय द्वारा डिक्री पारित था। टीम के द्वारा 25 अवैध कब्जेधारियों को नोटिस सर्व किया गया। प्रवर्तन विभाग की इस कार्रवाई से अवैध कब्जेधारियों में खलबली मची हुई है। कब्जेधारियों के विरुद्घ वैधानिक कार्रवाई के साथ प्राथमिकी भी दर्ज कराई जा रही है। इस कार्रवाई को आफिसर्स एसोसिएशन, संयुक्त श्रमिक यूनियन तथा आम नागरिकों द्वारा भी समर्थन दिया जा रहा है। बीएसपी द्वारा बीते दिनों रिसाली क्षेत्र में आपरेशन नसीब मुहिम के तहत अवैध कब्जाधारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गई है।

ताला जड़ने वाली पार्षद की सीएम से शिकायत

मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय में ताला जड़ने वाली पार्षद की शिकायत मुख्यमंत्री से की गई है। स्थानीय निवासियों ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कानूनी कार्रवाई की मांग की है। कहा कि शासन के निर्देशानुसार कलेक्टर द्वारा बीते 13 मई को जन समस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया था। वहां पर आम जनता अपनी समस्या लेकर शिविर मे आ रही थी, तभी स्थानीय भाजपा पार्षद लक्ष्मी दिवाकर अपने पति एवं देवर के साथ वहां पहुंची।

पार्षद ने कहा कि निगम द्वारा मुझे कार्यालय उपलब्ध नही कराया गया है। कार्यालय में ताला लगाकर यह कहा गया कि आज से इसका उपयोग वे पार्षद कार्यालय के रुप में करेंगी। 14 मई को सफाई कर्मचारी सुबह पांच बजे अपने कार्य में उपस्थित हुए। कार्यालय में ताला लगा होने के कारण पूरे सफाई कर्मचारी बाहर बैठे रहे। निगम के कर्मचारियों ने पार्षद को सूचना दी तब 6.30 बजे सुबह पार्षद ने अपने देवर के हाथ चाबी भेजी।

ताला खुलने के बाद सफाई कर्मियों ने निगम का ट्राली, बेलचा, फावड़ा, इत्यादि सामान निकाला। जिसके चलते डेढ़ घंटे विलंब से सफाई काम शुरू हो पाया शिकायतकर्ता राजेश प्रसाद ने मुख्यमंत्री व भिलाई महापौर को पत्र लिखकर पार्षद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local