भिलाई (नईदुनिया प्रतिनिधि)। फोरलेन पर फ्लाई ओवर निर्माण के कार्य में लगे एक ठेका श्रमिक की मौत के मामले में छावनी पुलिस ने ठेका कंपनी के इंजीनियर, सुपरवाइजर समेत तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के तहत कार्रवाई की है। यहां बता दें कि काम शुरू होने के बाद पहली बार किसी श्रमिक की मौत हुई थी और पुलिस ने उसमें प्राथमिकी दर्ज की है।

उल्लेखनीय है कि तीन दर्शन मंदिर के पास कैंप-1 निवासी श्यामलाल यादव (55) बीते 29 सितंबर को पावर हाउस चौक पर बन रहे फ्लाई ओवर के नीचे काम कर रहा था। वो एक पिलर के नीचे पानी पीने के लिए गया। इसी दौरान ऊपर से एक सेंट्रिंग की प्लेट उसके सिर पर गिरी। उसे फौरन लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। मामले की जांच के बाद पुलिस ने फ्लाई ओवर का निर्माण कर रहे ठेका कंपनी रायल इंफ्रा कंस्ट्रक्शन लिमिटेड कंपनी के इंजीनियर प्रसन्नजीत महापात्रा, सुपरवाइजर सरीफल मंडल और पेटी ठेकेदार शमशेर आलम के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस ने उक्त तीनों आरोपितों को घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

बाक्स... कई स्थानों पर सुरक्षा बिंदुओं का नहीं हो रहा पालन

यहां उल्लेखनीय है कि फोरलेन पर बन रहे फ्लाई ओवर के दौरान सुरक्षा नियमों का पूरी तरह से पालन नहीं किया जा रहा है। ऊंचाई पर काम करने वाले मजदूरों को सेफ्टी बेल्ट आदि नहीं दिए जा रहे हैं। इसके अलावा कई श्रमिक बिना हेलमेट के काम करते दिख रहे हैं। हादसों और लोगों की जान बचाने के लिए सुरक्षा नियमों का पालन करना बहुत जरूरी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020