भिलाई (वि.)। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भिलाई-3 में मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतगर्त आनलाइन प्रशिक्षण शहरी व गामीण स्वास्थ्य संयोजक को दिया गया। इस दौरान बताया गया कि आम लोगों को मानसिक अवसाद से बचने क्या टिप्स दिए जा सकते हैं। मानसिक रोगी की पहचान और रिफर की प्रक्रिया की जानकारी भी दी गई।

आनलाइन प्रशिक्षण डा आशीष शर्मा खंड चिकित्सा अधिकारी पाटन द्वारा दिया गया है। मानसिक स्वास्थ्य के अंतर्गत मानसिक रोग और मानसिक विकारों को अलग अलग रुप से समझाते हुए तनाव, अवसाद, अंनिद्रा, बैचेनी, चिडचिडापन, अकेलापन, डर के कारणों के रोकथाम ओर निदान, मरीज के रिफरल संबंधित जानकारी बताई।

शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम चरोदा भिलाई-3 के बीईईटीओ सैय्यद असलम ने बताया कि वर्तमान मे छोटे छोटे कारणों से लोगों मे तनाव नींद ना आना, भूख कम लगना, किसी चीज से डरना, बिना कारण बैचेनी घबराहट आदि की स्थिति में मनोरोग चिकित्सक से परामर्श लें।

भिलाई-3 के प्रभारी डा. देवेंद्र बेलचंदन ने बताया कि कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य यह था कि क्षेत्र में मानसिक रोगी की पहचान की जा सके। जिससे मरीज को उचित उपचार व परामर्श सही समय पर मिल सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस