भिलाई (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना का असर न सिर्फ लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ा है, बल्कि बाजार भी इससे प्रभावित हुआ है। साल के सबसे बड़े त्योहार दिवाली पर भी इसका असर नजर आ रहा है। उत्पादन की कमी और व्यापारिक अनिश्चितता के चलते पटाखा कारोबारियों ने इस बार काफी कम स्टाक ही मंगाया है। जिसे में हर साल औसतन 10 लाख किलो बारूद के पटाखे की खपत होती थी, लेकिन इस साल सिर्फ चार लाख किलो बारूद की खेप ही मंगाई गई है। हालांकि आम लोगों के लिए राहत की बात यह है कि कमी के बाद भी पटाखों की कीमत में बढ़ोत्तरी नहीं होगी।

बता दें कि दुर्ग जिले में सात बड़े पटाखा कारोबारी हैं। जिनके पास कुल 16 लाख किलो से ज्यादा क्षमता के मैग्जीन (पटाखों को रखने की जगह) है। सभी कारोबारी पूरी क्षमता के बराबर पटाखे नहीं मंगाते थे। फिर भी करीब वे 10 लाख किलो बारूद के पटाखों की खरीदी करते थे। इसके अलावा कुछ चिल्हर कारोबारी नागपुर से भी पटाखों की खेप लाते थे। नागपुर से लाए जाने वाली पटाखों की मात्रा करीब 450 किलो होती थी। अभी सिर्फ नियमित दुकानों में ही पटाखे बिक रहे हैं। अस्थाई दुकानों को लेकर अभी किसी प्रकार की सुगबुगाहट नहीं दिख रही है। इसके अलावा जिले के व्यापारी चीन के पटाखे भी नहीं मंगा रहे हैं।

बाक्स...

कम प्रदूषण वाले पटाखे ज्यादा आए

पटाखा कारोबारियों के मुताबिक सबसे ज्यादा प्रदूषण स्पार्कलिंग आयटम (फुलझड़ी, अनार, लाइट स्टिक, चकरी और सांप गोली) से होता है। वहीं धमाके वाले पटाखों से धुंआ कम निकलता है। इस बार सीमित मात्रा में पटाखा मंगाया गया है। इसलिए आम तौर पर लोग जिसे ज्यादा खरीदते हैं। उन पटाखों की ज्यादा खेप मंगाई गई है। इससे कम धुंआ उत्सर्जित होगा।

वर्जन...

कोरोना के चलते बाजार की स्थिति का किसी व्यापारी को कोई अंदाजा नहीं था। इसलिए व्यापारियों ने कम ही स्टाक मंगाया है। ताकी उनका पैसा न फंसे। हमने और लगभग सभी व्यापारियों ने करीब 40 फीसद ही पटाखे मंगाए हैं। इसके बावजूद कीमतों में विशेष बढ़ोत्तरी नहीं होगी। कीमतों में हर साल होने वाली मामूली बढ़ोत्तरी ही होगी।

- लालचंद गहलोत, पटाखा व्यापारी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस