भिलाई (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्राम उमरपोटी के एक ही परिवार के चार लोगों की मौत के पीछे कोई बड़ी वजह नहीं है। अभी तक की जांच में ये पता चला है कि पारिवारिक विवाद के चलते यह घटना हुई है। घटना की सुबह मृतक दंपती का अपने परिवार वालों से ही पानी भरने और झाड़ू लगाने की बात को लेकर विवाद हुआ था। इस बात पर मृतक दंपती के बीच भी कहासुनी हुई और उसके बाद इतनी बड़ी घटना हो गई। अभी भी मामले की जांच जारी है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जा सकेगी।

बता दें कि ग्राम उमरपोटी के साहू पारा में एक ही परिवार के चार लोगों की लाश उनके घर में मिली थी। मृतकों में भोजराम साहू (30), उसकी पत्नी ललिता साहू (28) और दो बच्चे प्रवीण कुमार (4) व डिकेश कुमार (2) शामिल हैं। दोनों बच्चों की लाश घर में एक खाट पर पड़ी थी। वहीं पत्नी ललिता साहू की लाश पलंग पर पड़ी थी। भोजराम की लाश फंदे पर झूलती मिली थी।

इसे देखकर आशंका जताई गई थी कि भोजराम ने अपनी पत्नी व दोनों बच्चों को मारने के बाद खुद भी आत्महत्या कर ली थी। अभी तक की जांच में पता चला है कि गुरुवार को भोजराम व उसकी पत्नी ललिता का भोजराम के माता-पिता व परिवार के अन्य सदस्यों से विवाद हुआ था। सुबह करीब नौ बजे झाड़ू लगाने और पानी भरने की बात को लेकर परिवार में कहासुनी हुई थी। इसके बाद ये घटना हुई थी।

एक दिन पहले ही मनाया था पत्नी का जन्मदिन

मृतक भोजराम साहू ने घटना के एक दिन पहले बुधवार को अपनी पत्नी ललिता का जन्मदिन मनाया था। जन्मदिन में शामिल होने के लिए ही उसकी साली भी वहां गई हुई थी। घर में विवाद होने के बाद दोपहर में वो अपनी साली को छोड़ने के लिए अपने ससुराल करंजा भिलाई गया था। वहां से वो दोपहर में करीब तीन बजे वापस अपने घर लौटा और उसके बाद परिवार का कोई भी सदस्य कमरे से बाहर ही नहीं निकला।

अभी तक की जांच में पता चला है कि ये घटना पारिवारिक विवाद के चलते हुई थी। अभी भी परिवार के सभी सदस्यों का बयान नहीं हो सका है। बयान के बाद जांच पूरी हो सकेगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

-देवांश सिंह राठौर, एसडीओपी पाटन

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close