भिलाई (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इस्पात संयंत्र के सामग्री प्रबंधन विभाग में सर्तकता जागरूकता सप्ताह के तहत जेम (गर्वनमेंट ई मार्केटप्लेस) की अनिवार्यता पर वेबिनार का आयोजन किया गया। इसमें वक्ताओं ने इसकी उपयोगिता पर जोर देते हुए कहा कि पारदर्शिता बढ़ाने के लिये आनलाइन प्रक्रिया आवश्यक है।

भिलाई इस्पात संयंत्र के कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) राकेश ने मुख्य अतिथि के रूप में जेम वेबिनार का उद्घाटन किया। संयंत्र के मुख्य महाप्रबंधक प्रभारी केआर पारकर, एमके कुलकर्णी, अमित श्रीवास्तव, वरिष्ठ प्रबंधक शुभांजलि गुप्ता और रोहित रस्तोगी विषेष रूप से उपस्थित थे।

कार्यपालक निदेशक ने कहा कि वर्तमान दौर में पारदर्शिता को बढ़ाने के लिये आनलाईन प्रक्रिया पर जोर दिया जा रहा है। शासन ने आगामी एक नवंबर, से जेम में शामिल 126 केटिगरी में उपलब्ध सभी सामग्रियों को जेम के माध्यम से ही क्रय करना अनिवार्य कर दिया है। उन्होने कहा कि इसका लाभ संयंत्र के पुराने वेन्डरों को मिले इस लिये ही यह वेबिनार का आयोजन किया गया है।

इस अवसर पर मुख्य महाप्रबंधक प्रभारी केआर पारकर ने कहा कि जेम ई प्लेटफार्म वस्तुओं और सेवाओं की खरीद और बिक्री के लिये आसानी से उपलब्ध है। यह वेबिनार ई मार्केट प्लेस जेम से स्थानीय ठेकेदारों और वेंडरों को जोड़ने और उन्हें पंजीकरण के लिये प्रोत्साहित करने की मंशा से किया गया था।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस