भिलाई। Environmental News : केमिकल से प्रदूषित हुए नहर की जांच के बाद गुरुवार को क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल की टीम केमिकल उद्योगों की जांच करने पहुंची। ग्रामीणों के साथ अध्ािकारियों ने भारी औद्योगिक क्षेत्र स्थित केमिकल उद्योगों का निरीक्षण किया।

बता दें कि हथखोज से निकलकर खारुन नदी तक जाने वाले नहर में केमिकल युक्त पानी छोड़े जाने का मामला गरमा गया है। खेत व भूजल श्रोत खराब होने से दर्जन भर गांव के ग्रामीण आक्रोशित है। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल दुर्ग के अध्ािकारी लगातार इसकी जांच कर रहे हैं। बीते बुध्ावार को क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंंडल, दुर्ग के दो अध्ािकारियों द्वारा प्रदूषित नहर की जांच की गई। मौके पर अकलोरडीह व सुरडूंग के ग्रामीण भी मौजूद थे। जिन्होंने बताया कि किस तरह से केमिकल युक्त पानी की वजह से नहर से लगे खेत खराब हो रहे हैं, तथा इसी वजह से दर्जन भर गांव का भूजल श्रोत खराब होते जा रहे हैं।

गुरुवार को फिर पहुंची टीम

गुरुवार को क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल, दुर्ग की टीम फिर अकलोरडीह व हथखोज पहुंची। टीम ने केमिकल उद्योगों की जांच की । टीम द्वारा इस बात की जांच की जा रही है कि केमिकल उद्योग इस्तमाल के बाद बचे हुए केमिकल का क्या करते हैं। दरअसल शिकायत इसी बात की है कि केमिकल उद्योग केमिकल को या तो नहर में बहा देते हैं या फिर कंपनी के अंदर कुएं जैसा गड्ढा कर उसी में उड़ेल देते हैं। यही केमिकल रिस-रिसकर भूजल श्रोत में मिलता है तथा उसे रसायनिक बना देता है। जांच करने आए अध्ािकारियों ने बताया कि केमिकल उद्योगों की जांच कर रिपोर्ट क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल के अध्ािकारियों को सौंपी जाएगी।

Posted By: Ravindra Thengdi

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags