दुर्ग। नगपुरा स्थित एक किराना दुकान के गोदाम में आग लग गई। इस घटना के दौरान गोदाम में सामान लाने गए युवक की जलकर मौत हो गई। गोदाम से बाहर धुआं निकलने पर लोगों का ध्यान उस ओर गया जब तक युवक की मौत हो चुकी थी। आगजनी के कारणों का अभी खुलासा नहीं हुआ है लेकिन शाट सर्किट होने की आशंका जताई जा रही है। घटना से रहवासी सकते में हैं। पुलिस ने घटना के वास्तविक कारणों का पता लगाने फोरेसिंक टीम को बुलवाया है।

पुलगांव थाना अंतर्गत ग्राम नगपुरा स्थित मनीष किराना दुकान में बुधवार करीब ढाई से पौने तीन बजे के आसपास उक्त घटना हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार नगपुरा निवासी अक्षय कुमार यादव(22) उक्त किराना दुकान में काम करता है। अक्षय दोपहर करीब ढाई बजे अपने घर से खाना खाकर दुकान आया था। इस बीच वह सामान लाने गोदाम गया। गोदाम दुकान से ही लगा हुआ है। कुछ ही देर बाद लोगों ने उक्त गोदाम से बाहर धुंआ निकलते देखा। तेज धुआं निकलते देख दुकानदार सहित आसपास के लोग हरकत में आए।

लोगों ने फायर ब्रिगेड व पुलगांव पुलिस को घटना को सूचना दी। हालाकि आसपास के लोगों ने पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम के पहुंचने से पहले ही पानी की व्यवस्था कर आग पर काबू पा लिया था। आग पर काबू पाने के बाद ग्रामीण गोदाम के भीतर घुसे तो अक्षत को मृत अवस्था में पाया। उसका शरीर पूरी तरह जल चुका था।

घटना को लेकर आसपास के रहवासी सकते में आ गए वे देर पहुंचने पर पुलिस के खिलाफ नाराजगी भी जताने लगे। स्थित को देखते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया था। इस दौरान दुर्ग ब्लाक सरपंच संघ के पूर्व अध्यक्ष रिवेंद्र यादव,जिला पंचायत अध्यक्ष शालिनी यादव सहित अन्य लोग भी घटना स्थल पर पहुंच गए।

गोदाम के ऊपर दुकान मालिक का निवास स्थान

गोदाम दुकान से ही लगा हुआ है। गोदाम में चावल,दाल,नारियल सहित किराना का अन्य सामान रखा होना बताया जा रहा है। आगजनी में सामान भी जल गया है। गोदाम के ऊपर में ही दुकान मालिक का निवास स्थान है। दुकान मनीष चंद्राकर का होना बताया गया है। पुलिस के मुताबिक आगजनी की घटना कैसे हुई यह अभी समझ से परे हैं लेकिन कई शाट सर्किट होने की भी आशंका जता रहे हैं। गुरुवार को फोरेसिंक की टीम आने के बाद ही घटना के वास्तविक कारणों का खुलासा हो सकता है।

नाना ने ही पाल पोसकर किया बड़ा

अक्षय कुमार नगपुरा में अपने नाना बहुर सिंह के यहां रहता था। प्राप्त जानकारी के अनुसार अक्षय को उसके नाना ने ही पाल पोसकर बड़ा किया है। अक्षय दो महीने का था तब उसकी मां गुजर गई। इसके बाद से ही वह नाना के यहां रह रहा था। अक्षय की शादी नहीं हुई है।

फोरेसिंक टीम के लेंगे मदद

नगपुरा स्थित मनीष किराना दुकान के गोदाम में आग लगने से वहां सामान निकालने गए अक्षय की जलकर मौत हो गई। अक्षय उक्त दुकान में काम करता है। आग कैसे लगी यह समझ से परे हैं लेकिन कुछ लोग शार्ट सर्किट होने की आशंका जता रहे हैं। घटना के संबंध में और जानकारी लेने गुरुवार को फोरेसिंक की टीम को बुलााया गया है।

- उत्तर कुमार वर्मा, थाना प्रभारी पुलगांव

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस