भिलाई। नेवई थाना में एक अजीब सा मामला दर्ज हुआ है। इसमें शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि उसने एक फाइनेंस कंपनी से आनलाइन 50 हजार रुपये का लोन लिया था। लोन लेने के बाद वो उस राशि को वापस नहीं लौटा सका। पहले तो कंपनी के प्रतिनिधियों ने उसे फोन पर काफी कुछ बुरा भला बोला। लेकिन, रुपये न होने के कारण उनकी बातों को सहन करता रहा। लेकिन, बाद में आरोपितों ने उसकी फोटो को एडिट कर उसे अश्लील बनाकर वायरल करना शुरू कर दिया।

शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में बताया है कि फाइनेंस कंपनी वालों ने उसके परिचितों व रिश्तेदारों को भी ये फोटो भेज दी है। घटना की शिकायत पर नेवई पुलिस ने आरोपित के खिलाफ फोन पर धमकाने और आइटी एक्ट की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

पुलिस ने बताया कि नेवई थाना क्षेत्र में रहने वाले एक व्यक्ति ने अपना काम शुरू करने के लिए एक फाइनेंस कंपनी से 50 हजार रुपये का लोन लिया था। लोन की पूरी प्रक्रिया फोन पर ही आनलाइन हुई। इसके लिए उससे आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक खाता की जानकारी, फोटो और कुछ परिचितों का नंबर व पता बतौर गारेंटर लिया गया। लोन लेने के बाद शिकायतकर्ता उसे चुका नहीं पाया तो कंपनी वालों ने उस पर रुपये वापस लौटाने के लिए दबाव बनाना शुरू किया। रुपये न होने के कारण शिकायतकर्ता ने ऋण चुकाने में असमर्थता जाहिर की।

इस पर फाइनेंस कंपनी के प्रतिनिधियों ने उसकी फोटो को एडिट कर उसे आपत्तिजनक बनाकर पहले शिकायतकर्ता को भेजा। इसके बाद उसके परिचितों व रिश्तेदारों के पास भी वे फोटो भेज दिए। इसके चलते शिकायतकर्ता को अपने परिचितों व रिश्तेदारों के बीच शर्मिंदा होना पड़ा। उसने नेवई थाना में इसकी शिकायत की। जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

जांच की जा रही

भारती मरकाम, टीआइ नेवई ने बताया कि शिकायतकर्ता एक युवक है। उसकी शिकायत पर फाइनेंस कंपनी के प्रतिनिधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। अभी मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local