दुर्ग। बढ़ती महंगाई,बेरोजगारी,अग्निपथ योजना के विरोध में शुक्रवार को कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने हिंदी भवन के सामने घरना प्रदर्शन कर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।

प्रदर्शनकारी कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर कोतवाली थाना में बैठा दिया।

धरना प्रदर्शन को विधायक अरुण वोरा, शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गया पटेल, अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग उपाध्यक्ष आरएन वर्मा, महापौर धीरज बाकलीवाल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री राजेंद्र साहू, सभापति राजेश यादव, रत्ना नारम देव सहित अन्य लोगों ने संबोधित किया।

वक्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि भाजपा वही पार्टी है जो पेट्रोल व डीजल में दस से पंद्रह पैसे मात्र वृध्दि होने पर तत्कालीन कांग्रेस सरकार के खिलाफ सड़कों पर आ जाती थी।

आज यही भाजपाई सत्तासीन होने के पश्चात बेतहाशा महंगाई बढ़ाकर देश की भोली भाली जनता पर कहर ढा रहे हैं। पेट्रोल ,डीजल,रसोई गैस के साथ-साथ अब खाने पीने की चीों पर जीएसटी लगाकर आमजनता के मुंह से निवाला छीनने का काम मोदी सरकार कर रही है।

ये सभी टैक्स व जीएसटी इन्हें वापस लेना ही होगा।कांग्रेस तब तक आंदोलन करती रहेगी जब तक केंद्र सरकार जनहित में ये सारे टैक्स व जीएसटी वापस नही ले लेती।

धरना प्रदर्शन में ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष अल्ताफ अहमद,अजय मिश्रा,देवेश मिश्रा,अनीस रजा, आनंद कपूर ताम्रकार, नासिर खोखर, राजकुमार साहू, महीप सिंह भुवाल, संदीप वोरा, आयुष शर्मा, कमलनारायण रुंगटा सहित अन्य लोग शामिल हुए।

---

आश्वासन के बाद विद्यार्थियों ने खत्म किया आंदोलन

दुर्ग। वेटनरी महाविद्यालय अंजोरा के विद्यार्थी इंटर्नशिप की राशि में बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर आंदोलनरत विद्यार्थियों के पास प्रोफेशनल कांग्रेस के पदाधिकारी पहुंचे।

शुक्रवार को प्रोफेशनल कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष क्षितिज चंद्राकर हड़ताली विद्यार्थियों से मिले उन्होंने विद्यार्थियों से चर्चा के बाद उनकी मांगें सरकार तक पहुंचाने का भरोसा दिलाया। प्रदेश अध्यक्ष के आश्वासन पर इसके बाद विद्यार्थियों ने हड़ताल समाप्त कर दी।

बता दें कि वेटनरी महाविद्यालय के विद्यार्थियों को इंटर्नशिप भत्ता के रूप में चार हजार 600 रुपये दिया जाता है। विद्यार्थियों का कहना है कि मौजूदा महंगाई व पढ़ाई के लिए आवश्यक खर्चों के अनुपात में यह बेहद कम है और इसे बढ़ाकर कम से कम 18 हजार रुपये किया जाना चाहिए। महाविद्यालय के करीब 100 विद्यार्थी इस मांग को लेकर प्रवेश द्वार पर प्रदर्शन कर रहे थे।

इससे उनका अध्यनयन भी प्रभावित हो रहा था। क्षितिज चंद्राकर ने कहा कि विद्यार्थियों की मांगों को पूर्ण करने हम हरसंभव प्रयास करेंगे। इस दौरान प्रोफेशनल कांग्रेस के प्रदेश समन्वयक दीप सारस्वत भी उपस्थित रहे।

---

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close