भिलाई। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने सरकार न केवल आर्थिक मदद कर रही है, बल्कि समय पर हुनरमंद बनाने कार्यशाला का आ भी योजन कर रही है। रिसाली निगम क्षेत्र की महिलाओं के लिए राखी बनाने का प्रशिक्षण दिया गया।

कार्यशाला में 20 से अधिक महिलाएं शामिल थी। जिन्होंने राखी बनाने का हुनर सीखा। इस राखी में इन महिलाओं द्वारा बनाई गई राखी बाजार में उपलब्ध होगी।

आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने बताया वे निगम क्षेत्र की ऐसी महिलाओं का समूह बनवा रहे है जिनकी माली हालत बहुत अच्छी नहीं हैं। समूह का पंजीयन भी किया जा रहा है। पंजीयन पश्चात राष्ट्रीय आजीवका मिशन के योजना के तहत महिला स्वसहायता समूह को आर्थिक मदद दिलाई जाती है।

साथ ही उन्हें मार्केट को समझाने और व्यापार को बताने कार्यशाला का आयेजन किया जाता है। इसके बाद महिलाएं सीखे गए हुनर का बखूबी उपयोग करती है।

शनिवार को महिला स्वसहायता समूह की सद्स्यों को राखी बनाने का प्रशीक्षण दिया गया। मास्टर ट्रेनर लावण्या ने बताया कि राखी हर महिलाएं खरीदती है। प्रत्येक महिलाओं का अपना सर्कल होता है। चैनल बनाकर अगर वे हाथ से तैयार राखी स्थानीय स्तर पर बेचती है तो वे घर काफी मुनाफा कमा सकती है।

महिलाओं को वर्तमान समय में किस तरह की राखी प्रचलित हैं इसके बारे में जानकारी दी गई। साथ ही राखी बनाने का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में सहायक परियोजना अधिकारी सुरेश देवांगन, मिशन मैनेजर आयरा आनंद बघेल, सामुदायीक संगठिका ललीता साहू, कुंजेश्वरी साहू, लता महानंद आदि शामिल थे।

प्रतिज्ञा क्षेत्र स्तरी संगठन द्वारा मसाला गृह उद्योग का संचालन किया जा रहा है। वहीं क्षेत्र स्तरीय संगठन व संगवारी क्षेत्र स्तरीय संगठन ने राखी व थैला बनाने का कार्य शुरू किया है। तीनों संगठन में 20-20 महिला सद्स्यों की टोली है।

सरकार की योजना है कि आर्थिक रुप से कमजोर महिलाएं आत्मनिर्भर बने। इसलिए महिलाओं को राखी बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। महिलाओं को और भी योजनाओं से जोड़ा जाएगा।

प्रकाश कुमार सर्वे

आयुक्त, नगर निगम रिसाली

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local