दुर्ग। जिले में मंगलवार से शुरू होने वाली धान खरीदी के लिए सहकारी समितियों में अंतिम समय तक तैयारी चलती रही। किसी केंद्र में खरीदे गए धान का स्टेक लगाने चबूतरा बनाया जा रहा था, किसी केंद्र में धान तौल के लिए किलो बाट तो धान की गुणवत्ता जांचने नमी मापक मशीन लगाई जा रही थी। कहीं सूचना फलक पर प्रति क्विंटल धान की कीमत लिखी जा रही थी तो कहीं बारदाना डंप किया जा रहा था।

जिले में समर्थन पर मूल्य पर धान खरीदी मंगलवार से प्रारंभ होगी। समर्थन मूल्य पर धान बेचने इस बार जिले के 94114 किसानों ने पंजीयन कराया है और धान का कुल रकबा 1,12,950 हेक्टेयर बताया गया है। जिले के 87 सहकारी समितियों और 90 केंद्रों में धान खरीदी के लिए जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग द्वारा किसानों को टोकन जारी किया गया है। जिले के 6,748 किसानों को टोकन दिया गया है जो कुल तीन लाख 19 हजार 714 क्विंटल धान बेच पाएंगें। जिला प्रशासन से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहले दिन एक दिसंबर को जिले के 1,529 किसान धान बेच पाएंगें।

टोकन लेने वाले उक्त किसानों के धान की कुल मात्रा 72,630 क्विंटल बताई गई है। जिले में सबसे कम टोकन बिरेझर में दो,बटंग में तीन और टेमरी में चार किसानों को जारी किया गया है।

सबसे ज्यादा 51 टोकन बोरी खरीदी केंद्र में जारी किया गया है। रौंदा में 35, बोरिद, नारधा और धमधा में 31-31 किसानों को टोकन दिया गया है। उल्लेखनीय है कि जिले में इस साल 40 लाख क्विंटल से अधिक धान खरीदी का लक्ष्‌य रखा गया है। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 31 जनवरी तक होगी।

गोढ़ी में लगा सीसीटीवी कैमरा

कई समितियों में धान खरीदी को लेकर मंगलवार को अवकाश के बावजूद दिनभर तैयारी चलती रही। वही कई समितियों में ताला भी लटकता रहा। गोढ़ी खरीदी केंद्र में सुरक्षा के लिहाज से सीसीटीवी कैमरा लगाया जा रहा था। वहीं नारधा खरीद केंद्र में 10 हजार बारदाना डंप किया गया। करंजा भिलाई नवीन धान खरीदी केंद्र में भी कर्मचारी व्यवस्था बनाने में लगे गुए थे। धान खरीदी केंद्र जेवरा सिरसा में खरीदे गए धान का स्टेक लगाने बोरी में रेत भरकर चबूतरा बनाया जा रहा है।

इधर कोलिहापुरी खरीदी केंद्र में समर्थन मूल्य पर खरीदे जाने वाले धान की कीमत खरीद केंद्र की दीवाल पर लिखा जा रहा था। कोलिहापुरी और कुथरेल खरीद केंद्र में सोमवार को किसानों को धान बेचने के लिए टोकन भी जारी किया गया।

खरीदी केंद्रों में 23 लाख नग बारादाना पहुंचा

जिले में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए मार्कफेड द्वारा बारदाने की आपूर्ति कराई गई है। अब तक 23 लाख 77 हजार 82 नग बारादाना समितियों में उपलब्ध कराया गया है। इसमें से 12 लाख 53 हजार 54 नग पुराना बारदाना शामिल है। जिले में इस साल धान खरीदी के लिए करीब एक करोड़ नग बारदाने की जरुरत बताई जा रही है। जिसमें से लगभग 70 लाख नग बारदाना उपलब्ध होना बताया जा रहा है।

जिले में एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू हो रही है। खरीदी के लिए किसानों को टोकन जारी करने के साथ ही केंद्रों में बारदाना सहित अन्य व्यवस्था भी बनाई गई है ताकि किसानों को किसी तरह की परेशानी न हो। खरीद केंद्रों पर नोडल अफसरों को नजर रखने कहा गया है।

-बीबी पंचभाई, एडीएम व नोडल अधिकारी धान खरीदी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस