भिलाई। देश की सार्वजनिक क्षेत्र की प्रमुख इस्पात उत्पादक कंपनी सेल की वित्तीय स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। वर्ष 2020-21 में कंपनी पर लगभग 55 हजार करोड़ रुपये का कर्ज था।

वहीं अंतिम तिमाही में 7754 करोड़ रुपये कर्ज चुकाने के बाद अब सेल पर मात्र 13393 हजार करोड़ का कर्ज शेष रह गया है। वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में ही सेल ने 5,000 करोड़ कर्ज को वापस कर दिया था।

बाकी तिमाही में रिकार्ड तोड़ कमाई जारी रहने के बाद कंपनी ने अपनी आर्थिक स्थिति को और मजबूत करते हुए कुल कर्ज को 20 हजार करोड़ से नीचे रखने में कामयाब हो सकी। लाभ की वजह स्टील मार्केट में आई हुई उछाल के अलावा आयरन ओर फाइंस की बिक्री से आमदनी बढ़ी और लगातार रिकार्ड कैश कलेक्शन भी इसकी वजह है।

वर्ष 2020- 21 में चुकाए थे 16,131 करोड़

सेल ने वित्तीय वर्ष 2020-21 में ही कंपनी ने 16,131 करोड़ रुपये लौटाते हुए कर्ज को 35,350 करोड़ तक कम किया था। वहीं वित्तीय वर्ष 2021- 22 में यह घटकर 13,393 करोड़ रह गया है। सेल के उच्च प्रबंधन ने मार्केट का ट्रेंड और इस्पात की कीमत स्थिरता का लाभ उठाते हुए कंपनी पर कर्ज को चालू वित्तीय वर्ष के अंत तक 13393 करोड़ तक ले जाने में कामयाब हुआ है।

सेल की रेटिंग में भी इजाफा

सेल की लगातार बेहतर होती वित्तीय स्थिति का सीधा असर उसके शेयर की कीमतों पर भी दिख रहा है। जहां सेल का शेयर मई 2020 में 30 रुपये के स्तर पर पहुंच गया था। वहीं वर्तमान तिमाही के नतीजे के बाद अगस्त 2021 में 140 रुपये के ऊपर तक जा पहुंचा है।

अभी यह 100 रुपये के आस-पास स्थिर है। इसी के साथ तीन क्रेडिट एजेंसी इंडिया रेटिंग, केयर रेटिंग तथा ब्रिकवर्क रेटिंग एजेंसी ने सेल की रेटिंग को एए स्टेबल रेटिंग दी है। इससे सेल का सिबिल स्कोर बढ़िया हुआ है। इससे सेल को अगले मार्डनाईजेशन फेज के लिए बैंको से कर्ज मिलने मे आसानी होगी।

सेल पर कर्ज तथा ब्याज अदायगी (करोड़ मे)

वित्तीय वर्ष---कर्ज --ब्याज

2017 41396 2528

2018 45409 2823

2019 45170 3155

2020 54127 3487

2021 37677 2817

2022 13393 856

(मार्च तक की स्थिति में)

---

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close