भिलाई। एक शातिर साइबर ठग ने एसबीआइ के ब्रांच मैनेजर से 18 लाख 24 हजार 780 रुपये की ठगी कर ली है। आरोपित ने खुद को वेंकटेश मोटर्स का मालिक बताते हुए ब्रांच मैनेजर से बात की थी। इसके बाद आरोपित ने जरूरी काम की बात कहकर दो अलग-अलग खातों में आरटीजीएस करवाकर ठगी की। घटना की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी की धारा के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

पुलिस ने बताया कि एसबीआइ के दुर्ग अग्रसेन चौक के पास स्टेशन रोड स्थित शाखा के ब्रांच मैनेजर अनुरंजन कुमार प्रियदर्शी ने धोखाधड़ी की प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि 24 जनवरी की दोपहर में करीब 12ः49 बजे उसके मोबाइल पर एक फोन आया। फोन पर बात करने वाले व्यक्ति ने खुद को कैलाश मध्यानी का पार्टनर और वेंकटेश मोटर्स का मालिक बताया। आरोपित ने बैंक में एफडी खुलवाने की बात की और बोला कि वो खुद बैंक आ रहा है। इसके बाद आरोपित ने कहा कि वो रास्ते में है और उसे बहुत ज्यादा जरूरी रुपये ट्रांसफर करवाना है। इसके बाद आरोपित ने बैंक के ईमेल पर अपनी आइडी से एक ईमेल किया। जिसमें खाता नंबर, चेक नंबर और आइएफएससी कोड था। आरोपित ने कहा कि उसके द्वारा भेजे खातों में आरटीजीएस की राशि ट्रांसफर कर दे। वो जल्द ही बैंक पहुंच जाएगा और आरटीजीएस के रुपये जमा कर देगा। आरोपित की बातों में आकर बैंक मैनेजर ने दोनों खातों में कुल 18 लाख 24 हजार 780 रुपये ट्रांसफर कर दिया। इसके बाद आरोपित ने फिर से शिकायतकर्ता को फोन किया और दो और खातों में आरटीजीएस करने के लिए कहा। इस पर शिकायतकर्ता को शक हुआ और उसने कैलाश मध्यानी के नंबर पर फोन किया तो कैलाश मध्यानी ने उसे बताया कि उसने बैंक में किसी भी प्रकार का लेनदेन करने के लिए किसी को नहीं कहा है। इसके बाद शिकायतकर्ता ने मोहन नगर थाना में आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

बैंक प्रबंधन की लापरवाही

इस मामले में बैंक प्रबंधन और मैनेजर अनुरंजन कुमार प्रियदर्शी की लापरवाही उजागर हुई है। बैंक मैनेजर ने बिना किसी वैध पत्र और खाताधारक की सहमति के बिना राशि ट्रांसफर किया। जबकि खाताधारक बहुत ही भरोसे से बैंक में अपने रुपये रखते हैं। यहां ये भी उल्लेखनीय है कि बैंक में बैंक की अपनी कोई राशि नहीं होती। बैंक में खाताधारकों के पैसे होते हैं। इस मामले में भी बैंक प्रबंधन ने एक खाताधारक के खाते से ही ठग को रुपये भेजे हैं। जो कि एक बड़ी लापरवाही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local