भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र में ब्लास्ट फर्नेस में लोहा उत्पादन की प्रक्रिया के दौरान बनने वाले स्लैग को सेक्टर -5 के पास डंपयार्ड में रखा जाता है । जहां से इसे स्थानीय सीमेंट फैक्ट्रियों को कच्चे माल के रूप में बेचा जाता है। ब्लास्ट का फर्नेस स्लैग, सीमेंट के उत्पादन में प्रमुख कच्चे माल के रूप में उपयोग किया जाता है ।

इसका परिवहन हाइवा और बड़े ट्रकों द्वारा किया जाता है ।इस दौरान छलक कर सड़क पर बिखर जाता है तथा ड्यूटी आने जाने वाले बीएसपी कर्मचारियों के लिए खतरा पैदा करता है । सड़क परिवहन के दौरान स्लैग को पानी से गीला करके ले जाना अनिवार्य होता है। जिससे यह उड़कर सड़कों पर ना गिरे लेकिन अधिक माल ले जाने के चक्कर में गाड़ियों के आपरेटर स्लैग को पूरी तरह गीला नहीं करते हैं। जिससे यह रास्ते में उड़कर बिखरता है।

भारी वाहनों की आवाजाही से ठीक सेक्टर- 5 जेपी सीमेंट चौक के बीच रास्ते में एक बड़ा गड्ढा बन चुका है । नौकरी पर जाने की जल्दबाजी में कार और दुपहिया सवार इस गड्ढे में फंस कर अपना संतुलन खो रहे हैं। काफी व्यस्त सड़क होने के बावजूद नगर सेवाएं विभाग इस गड्ढे की मरम्मत के तरफ ध्यान नहीं दे रहा है।

जेपी सीमेंट चौक से बीएसपी के मेनगेट तक सड़क के किनारे बड़ी मात्रा में स्लैग बिखरा हुआ देखा जा सकता है । जिसके चलते अब दो पहिया वाहन अब सड़क के बीचों बीच गाड़ी चलाने को मजबूर है। किनारे चलने पर गाड़ी स्लिप होने का खतरा बढ़ गया है। वही स्लैग उड़कर आंख में जाने से भी कर्मचारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local