भिलाई नगर। महाकालेश्वर उज्जैन दर्शन करने गए भारतीय रेलवे में ट्रेन मैनेजर के हाउसिंग बोर्ड के एकता चौक स्थित निवास का ताला तोड़ अज्ञात चोर लाखों के जेवरात और 70 हजार नगद पार कर दिया। उज्जैन से लौटने के बाद पीड़ित ने जामुल पुलिस को सूचना दी है। अज्ञात चोर के खिलाफ धारा 380, 457 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले की विवेचना की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि कैलाश नगर एकता चौक निवासी दिनेश चंद्र पाण्डेय भारतीय रेल्वे में ट्रेन मैनेजर हैं। वो 18 मई की शाम परिवार के साथ उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर दर्शन करने निकले थे। बीती रात वापस लौटने पर घर का चैनल गेट एवं सभी दरवाजे का ताला टूटा था। आलमारी के भी ताले टूटे और कपड़े बिखरे हुए थे।

आलमारी में रखे जेवरात में 2 तोले का हार, झुमका आधा तोला, सोने का मांग टीका आधा तोला, सोने की अंगूठी दो ग्राम, नथ लगभग एक ग्राम, दो नग सोने की चूड़ी छह ग्राम, सोने लाकेट दो ग्राम, चांदी की करधन आधा किलो, पायल चांदी की दो जोड़ी लगभग 40 ग्राम, ब्रेसलेट आठ नग लगभग 40 ग्राम एवं नगदी 70 हजार रुपये नहीं था। कोई अज्ञात चोर घर के दरवाजे में लगे ताले को तोड़कर जेवरात और नगद रकम चोरी कर ले गया।

---

जांच समिति के सामने दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाए दुकानदार

दुर्ग। दुर्ग निगम के इंदिरा मार्केट क्षेत्र में निर्मित आठ दुकानों के निर्माण और आवंटन के मामले की जांच शुरू हो गई है। मंगलवार को जांच समिति ने दुकानदारों को दस्तावेजों के साथ उपस्थित होने कहा था।

लेकिन दुकानदार समिति के समक्ष दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाए।इस मामले में अंतिम निर्णय समिति की अगली बैठक में लिया जाएगा।

इंदिरा मार्केट क्षेत्र में आठ दुकानों के निर्माण व आवंटन में अनियमितता का मामला निगम सामान्य सभा की बैठक में उठा था। मामले में निगम सभापति राजेश यादव ने जांच के लिए समिति बनाई थी। सोमवार को समिति की दूसरी बैठक समिति के अध्यक्ष व निगम के राजस्व प्रभारी ऋषभ जैन की अध्यक्षता में हुई।

जांच समिति ने दुकानदारों को दुकानों का निर्माण व आवंटन के समक्ष दस्तावेज प्रस्तुत करने कहा था। दुकानदारों ने समिति के समक्ष दस्तावेज प्रस्तुत किए। इस दौरान समिति के सदस्यों ने दुकानदारों का बयान भी लिया।

समिति के अध्यक्ष ऋषभ जैन ने बताया कि दुकानदारों द्वारा दुकानों के निर्माण और आवंटन से संबंधित वास्तविक दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया है। दुकानदारों का बयान भी संतोष जनक नहीं है। समिति की अगली बैठक मे इस मामले में निर्णय लिया जाएगा। बैठक में जांच समिति के सदस्य एमआइसी प्रभारी भोला महोबिया, पार्षद अरुण सिंह, विजेंद्र भारद्वाज,बाजार अधिकारी थान सिंह यादव,ईश्वर वर्मा उपस्थित थे।

---

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close