भिलाई (वि)। दिवाली को देखते हुए योजना के तहत खरीदे गए गोबर से रिसाली निगम क्षेत्र की 30 महिला स्व-सहायता समूह दीया बनाने का काम कर रही हैं। महिलाओं ने अब तक 12 हजार दीये का निर्माण कर लिया है।

निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे बुधवार को महिला स्वसहायता समूह के सदस्यों से चर्चा की और दीया का अवलोकन किया। महिलाएं दीया के अलावा फूलबत्ती भी बना रही हैं। रिसाली निगम क्षेत्र के चार अलग-अलग स्थानों पर दीया बनाने का कार्य चल रहा है। लगभग 50 से अधिक महिलाएं 12 हजार से अधिक दीया बना चुकी हैं। आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे के निर्देश पर महिलाएं दीयों को रंग रोगन कर सजा रही हैं। साथ ही सामान्य दीया अलग से तैयार किया जा रहा है। वहीं कुछ महिलाए दीये के साथ फूलबत्ती बनाने का कार्य भी कर रही हैं।

बाक्स

40 हजार का लक्ष्य

नगरीय प्रशासन विभाग के संयुक्त संचालक एसके दुबे एसएलआरएम सेंटर स्थित गोबर खरीदी केंद्र पहुंचे थे। निरीक्षण के दौरान ही संयुक्त संचालक ने महिला स्व-सहायता समूह को 40 हजार दिया बनाने को लक्ष्य दिया है। सीओ ललिता साहू ने बताया कि अब तक 12 हजार दीया का निर्माण किया जा चुका है।

बाक्स

दीया बनाने इन समूहों की महिलाएं कर रहीं मेहनत

इस्पात नगर की नवकिरण महिला स्व-सहायता समूह, अध्यारानी, मां सताक्षी, मां शारदा, नेवई की अभिनंदन महिला स्व-सहायता समूह, आशीष नगर की राष्ट्रीय क्षेत्र स्तरीय महिला स्व-सहायता समूह, सतनामी पारा रिसाली की पुष्पांजली, रिद्घी, मां शारदा अखिल भारतीय, मां कर्मा, अमृत, राधाकृष्ण, सिद्घी, नव चेतना, प्रज्ञा, आशीष नगर की राष्ट्रीय क्षेत्रीय, नारी समूह, पे्ररणा, आस्था, थानेश्वरी, तेजस्वी, सशक्ति, कल्याणी, एकता, जागरूक व मौली महिला स्व-सहायता समूह शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस