बीजापुर। जिला कार्यालय में आयोजित साप्ताहिक समय सीमा की बैठक में कलेक्टर डॉ अयाज तम्बोली ने भोपालपटनम के सण्ड्रा व उसूर के पामेड़, धरमारम, यमपुर गांवों में बैंकिंग सुविधा न होने तथा पेंशन व मजदूरी भुगतान की समस्या को देखते हुए निर्देश दिया कि महाराष्ट्र के बांबरागढ़ व तेलंगाना के चेरला में इन गांवों के लोगों के बैंक खाते खोलकर आनलाइन भुगतान किया जाए। बगैर अनुमति अवकाश पर जाने को लेकर उप संचालक कृषि को नोटिस जारी कर वेतन रोकने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिए हैं। बैठक में सीइओ जिला पंचायत अभिषेक सिंह, डीएफओ गुरूनाथन एन, उप संचालक इंद्रावती मनोज पाण्डे, संयुक्त कलेक्टर जीसी नाहटा, एसडीएम बीजापुर सीडी वर्मा व एसडीएम भोपालपटनम राजीव पाण्डे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में कलेक्टर ने निर्माण कार्य, फसल बीमा, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, जल संवर्धन, शौचालय निर्माण, आधार पंजीकरण, जनधन योजना, तेंदूपत्ता संग्रहण, विद्युतीकरण, पेयजल, सूखा राहत, आबादी भूमि के पट्टा वितरण प्रगति की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश अधिकारियों को दिए। स्कूल एवं आंगनबाडी की मरम्मत 14वें वित्त से करने जनपद पंचायतों के सीईओ को निर्देश दिया गया। तिमेड़, बारेगुड़ा व चिंताकोडा में विद्युत लाइन विस्तार का निर्देश दिया गया। विस्थापित राशन दुकानों को वापस मूल गांव भेजने का प्रस्ताव तत्काल देने खाद्य विभाग को कहा गया है। साक्षरता अभियान के तहत महापरीक्षा अभियान में शामिल नवसाक्षरों की जानकारी लेकर परिणाम की जानकारी प्रस्तुत करने का निर्देश साक्षरता प्रभारी को दिया गया। बैठक में प्रधान मंत्री जनधन योजना के तहत पचास हजार खाते खोले जाने की जानकारी दी गई। ग्रामीण यांत्रिकी सेवा से भोपालपटनम व बीजापुर में निर्माणाधीन जी टाइप व आई टाइप आवास निर्माण की प्रगति की जानकारी लेकर जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया गया। नवोदय विद्यालय व केन्द्रीय विद्यालय को प्रारम्भ करने हेतु आवश्यक पत्राचार व नये सत्र में विद्यालय प्रारम्भ करने हेतु जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया गया। भैरमगढ़ में अधूरे पड़े कन्या छात्रावास को तत्काल पूरा कर फर्नीचर की व्यवस्था करते हुए नए शिक्षा सत्र में छात्रावास प्रारम्भ करने का निर्देश दिया गया। सभी यात्री प्रतिक्षालय में जल संर्वधन व जल संरक्षण की थीम वाला फ्लेक्स लगाने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए। बासागुडा में चेकडेम निर्माण का प्रस्ताव तथा सभी छोटे नालों में रेत बोरी से स्ट्रक्चर बनाकर जल संरक्षण का निर्देश दिया गया।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस