बीजापुर। नईदुनिया न्यूज

दक्षिण बस्तर में रोजगार के लिए अंदरूनी गांवों से सीमावर्ती राज्यों में पलायन कोई नया मामला नहीं है, लेकिन स्थानीय स्तर पर रोजगार दिलाने का दावा करने वाले प्रशासन के पास ऐसे मजदूरों की कोई जानकारी तक नहीं होती। कोरोना की वजह से पहली बार मजदूरी करने दूसरे राज्यों में जाने वाले आदिवासियों के आंकड़े जुटाए जा रहे हैं। यह भी पता लग रहा है कि कितने बालिग और नाबालिग मजदूरी करने दूसरे राज्यों में गए थे। प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ गांव लौट रहे आदिवासियों की जानकारी जुटा रहा है। ग्रामीणों के लौटने के पश्चात बाकायदा मुनादी हो रही है। इनमें लगभग 90 फ़ीसदी वे लोग हैं जो महाराष्ट्र और तेलंगाना राज्यों में मजदूरी के सिलसिले में गए हुए थे। लॉक डाउन की स्थिति में इन्हें वापस लौटना पड़ रहा है। इन्हें होम कवारेंटाइन करने के लिए नाम, पता तथा संख्या जुटाई जा रही है। परिणामस्वरूप प्रशासन के पास अब यह रिकॉर्ड भी दुरुस्त हो रहा है कि जिले से हर साल कितनी तादाद में लोग पलायन करते हैं।

90 फीसद मिर्च के खेतों में मजदूरी करने जाते हैं

जानकारी के मुताबिक जिले में करीब 5300 लोग होम आइसोलेशन पर हैं। यह आंकड़े स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी किए गए हैं। इनमें 90 फीसद वे लोग हैं जो मिर्च के खेतों में मजदूरी करने तेलंगाना गए थे, वहीं 100 से 200 लोग बोरवेल में काम करने तेलंगाना गए थे। इन लोगों पर स्वास्थ्य विभाग की निगरानी का फायदा यह हुआ है अब हर साल जिले से बाहर मजदूरी के लिए जाने वाले ग्रामीणों की संख्या व बेरोजगारी का आकलन करने और पलायन को रोकने रोजगार परक योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर प्रशासन को मदद मिलेगी।

रोज हो रही वीडियो कांफ्रेंसिंग

सीएमएचओ डॉ पुजारी ने बताया कि जिले में कोई संदिग्ध नहीं मिला है। विदेश से आए लोगों के ही सैंपल लिए गए थे। हाइड्रोक्सी क्लोरो क्वीन की उपलब्धता के बारे में उन्होंने कहा कि यह भी उपलब्ध नहीं है अलबत्ता चोरों क्वीन पर्याप्त मात्रा में है यह भी कारगर दवा है। सीएमएचओ ने बताया कि हालात को देखते हुए रोजाना अफसरों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हो रही है। एमडी, डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज, स्वास्थ्य सचिव समेत बड़े अफसर निर्देश दे रहे हैं। जिले में इस समय 42 डॉक्टर व 16 आरएएमए हैं। चिकित्सकों को एक ऐप डाउनलोड करने कहा गया है। इसमें उपचार के तरीके बताए गए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना