बीजापुर। नईदुनिया। Bijapur News धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र फरसेगढ़ स्थित छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स(सीएएफ) के कैंप में शनिवार को जवानों के बीच आपसी फायरिंग की हकीकत तलाशने रविवार को पुलिस और सीएएफ के आला अधिकारियों का दल पहुंचा।

बता दें कि घटना के बाद मृत और घायल दो जवानों को जिला चिकित्सालय बीजापुर में लाया गया था। यहां प्राथमिक उपचार के बाद आरोपित जवान दयाशंकर शुक्ला की नाजुक स्थिति को देखते हुए देर रात ही उसे रायपुर शिफ्ट कराया गया जबकि गोलीबारी में मृत बिहार के रवि रंजन के शव को भी रायपुर के लिए रवाना कर दिया गया। पैर में गोली लगने से घायल जवान उत्तरप्रदेश के मो. शरीफ को उपचारार्थ बीजापुर जिला चिकित्सालय में रखा गया है।

घटना के संबंध में पत्रकारों से चर्चा करते एसपी दिव्यांग पटेल ने घटना के लिए जिम्मेदार कारणों पर अनभिज्ञता जाहिर की है। एसपी का कहना है जांच पूरी होने तक कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। वहीं सूत्रों के हवाले से खबर है कि आपसी लेन-देन के तीन हजार रुपये को लेकर जवान आपस में भिड़े थे।

घायल जवान मो. शरीफ के मुताबिक वे गश्त कर लौटे थे और मैस से खाना लेकर भोजन करने की तैयारी में थे, तभी आरोपित दयाशंकर और रवि रंजन के बीच विवाद हुआ और दयाशंकर ने गोली चला दी। इसमें एक गोली उसके पैर में भी लगी। शरीफ के मुताबिक घटना से उसका कोई लेना देना नहीं था, लेकिन दुर्भाग्यवश एक गोली उसे भी लग गई।

थम नहीं रही कैंपों में गोलीबारी

गत वर्ष नोरा कैंप में ऐसी ही एक घटना में एक जवान ने अपने साथियों पर गोली चला दी थी। उस घटना से पहले बासागुड़ा सीआरपीएफ कैंप में ऐसी ही एक घटना में साथी जवान ने अपने चार साथियों को गोलियों से भून डाला था। सुरक्षा कैंपों में जवानों में आपसी खूनी संघर्ष की बढ़ती घटनाओं से पुलिस महकमा भी चिंतित है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020