बीजापुर। जिले में चलाए जा रहे नक्सल विरोध अभियान चलाया जा रहा है। वहीं शासन की नीति से प्रभावित होकर पूर्व जनताना सरकार, संस्कृति शाखा अध्यक्ष, सीएनएम अध्यक्ष ओयाम नंदा उर्फ रमेश ने अति पुलिस अधीक्षक बीजापुर डा पकंज शुक्ला, उप पुलिस अधीक्षक आपरेशन आशीष कुंजाम के समक्ष के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।

जिले में चलाए जा रहे माओवादी उन्मूलन अभियान के तहत गुरुवार को नक्सली ओयाम नंदा उर्फ रमेश साकिन मंडीमरका बंजारापारा थाना बासागुड़ा जिला बीजापुर ग्राम जगरगुंडा-बासागुड़ा एरिया कमेटी सीएनएम अध्यक्ष ओयाम नंदा उर्फ रमेश ने एएसपी डा. पकंज शुक्ला, डीएसपी आपरेशन आशीष कुंजाम के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। आत्मसमर्पण करने वाला नक्सली वर्ष 2000 में बासागुड़ा एलओएस कमांडर रामबाबू द्वारा बाल संगम के पद पर संगठन में भर्ती किया था।

ओयाम नंदा उर्फ रमेश को वर्ष 2004 में जगरगुंडा एरिया सीएनएम अध्यक्ष दशरू ने सीएनएस के पद पर पदोन्नात किया। वर्ष 2006 में डीह्वीसीएम पापा राव ने ओयाम नंदा उर्फ रमेश को ग्राम मंडीमरका का जनताना सरकार/संस्कृति शाखा अध्यक्ष/सीएनएस अध्यक्ष के पद का जिम्मेदारी दी थी। 2006 से 2016 तक इस पद पर काम कर किया। वर्तमान में पामेड़-उसूर एरिया कमेटी अंतर्गत सप्लाई टीम के सदस्य के रूप में कार्यरत था।

उक्त नक्सली को संगठन में रहते परिवार से मिलने नही देने, विचारधारा, जीवन शैली एवं भेदभाव पूर्ण व्यवहार से त्रस्त होकर छत्तीसगढ़ शासन की आत्मसमर्पण नीति से प्रभावित होकर नंदा ओयाम उर्फ रमेश ने पुलिस के समक्ष समर्पण किया गया। समर्पण करने पर इन्हें उत्साहवर्धन के लिए शासन की आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति के तहत 10 हजार र्स्पए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local