बीजापुर। छत्‍तीसगढ़ के बीजापुर जिले में बारिश आफत बनती जा रही है। भारी बारिश से नदी नाले उफान पर है वही बारिश का कहर भी जारी है। देश व क्षेत्र स्वतंत्रता दिवस का जश्न मना रहा है, वहीं गंगालूर के हेमला परिवार में गम का माहौल बना हुआ।

मिली जानकारी अनुसार गंगालूर तहसील मुख्यालय के गायता पारा निवासी सूरज हेमला (22 वर्ष) घर के समीप बड़ी नदी किनारे मछली पकड़ने गया था। अचानक पैर फिसलने से पानी तेज बहाव में बह गया है। साथी ग्रामीणों ने सूरज के डुबने की जानकारी तहसीलदार डीआर ध्रुव, आरआई एसएल कतालम तथा टीआई पवन वर्मा को देने पर बीजापुर से नगर सैनिकों की टीम बुलाई गई।

नगर सैनिकों की टीम द्वारा खोजबीन जारी है। लेकिन सूरज हेमला का अब तक पता नहीं चला है। तहसीलदार डी आर ध्रुव ने बताया कि नंगा भीमा मंदिर के पास सूरज का मकान है , मछली पकड़ने की आदत के चलते वह रोज की तरह दोपहर में भी नदी किनारे गया था। अचानक पैर फिसलने से नदी तेज बहाव में बह गया है। नगर सैनिकों की टीम द्वारा खोजबीन जारी है। गंगालूर के बड़ी नदी में जल स्तर बढा हुआ है साथ पानी का बहाव भी तेज है इसलिए नगर सैनिकों को रेस्क्यू करने में मुश्किलें हो रही है।

गंगालूर के टीआई पवन वर्मा दल बल के साथ नदी किनारे डटे है। तहसीलदार के साथ आर आई एस एल कतालम, पटवारी, पंचायत के सरपंच, सचिव तथा परिजन बड़ी नदी के समीप तलाशी अभियान में लगे है। गायता पारा निवासी सूरज हेमला की पत्नी सहित रिश्तेदार में परेशान है, पत्नी रीना हेमला पति के सकुशल वापसी की उम्मीद लगाई बैठी है।

कडे़नार का कमलू ताती का एक माह बाद भी पता नहीं

विदित हो कि कडे़नार निवासी कमलू ताती 9 जुलाई को मिंगाचल नदी में भारी बारिश के चलते तेज बहाव में डुब गया था जिसका अब तक पता नहीं चला है। कमलू ताती के पानी डुबने की खबर पर नगर सैनिक की टीम, ग्रामीणों तथा परिजनों के द्वारा एक सप्ताह तक लगातार खोजबीन की गई लेकिन कमलू को पाने में असफल रहे परिजन।एक माह बीत जाने के बाद कमलू ताती का पता नहीं चला है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close