बीजापुर। जिले के नेलसनार हायर सेकंडरी स्कूल में कौशल स्किल, बस्ता विहीन कार्यक्रम के अंतर्गत एक दिसंबर को नेलसनार के माध्यमिक स्तर समस्त छात्र, छात्राओं को गांव के शाउमावि नेलसनार के बच्चों को सब्जी उत्पादन करने वाले किसान बलराम बघेल के खेतों में शैक्षणिक भ्रमण कराया गया। छात्र-छात्राओं के द्वारा खेतों और सब्जी की क्यारियों का भौतिक अवलोकन किया गया और यह जाना कि सब्जियों की नर्सरी कैसे तैयारी की जाती है। नर्सरी तैयार हो जाने के पश्चात उन्हें खेतों में किस क्रम से लगाया जाता है, और यह भी जाना कि सब्जी के उत्पादन में किसानों को किस-किस समस्या का सामना करना पड़ता है।

सब्जी के उत्पादन में आवश्यक तैयारी और सामग्री जैसे-पानी की व्यवस्था करना, बीज तैयार करना, खाद की व्यवस्था करना आदि को जाना। बच्चों ने खेतों में किसानों के द्वारा धान को भुसे से अलग किए जा रहे धउड़ावनी विधिध को भी देखा। किसानों के द्वारा बच्चों को यह भी बताया गया कि यदि सब्जी के उत्पादन में अच्छी तकनीकी सहीं विधि और मेहनत किया जाए तो खर्च राशि की तुलना में उन्हें काफी मुनाफा प्राप्त होता है।

उक्त शैक्षणिक भ्रमण में शिक्षकों के द्वारा भी कृषि और भविष्य में कृषि विषय की उपयोगिता को भी समझाया गया। कौशल स्किल, बस्ता विहीन कार्यक्रम के अंतर्गत छात्र, छात्राएं खेतों का भ्रमण कर काफी उत्साहित थे। कक्षा के बाहर बस्ते के बिना जानकारी लेने में उन्हें काफी प्रसन्नता हो रही थी। संस्था प्रमुख अनिल मरावी ने बताया कि यह शैक्षणिक भ्रमण आज इस दौर में बच्चों के विभिन्ना विकास व प्रयोगात्मक दृष्टि से जरूरी हो गया है। इन बच्चों के माता-पिता खेती-बाड़ी व साग सब्जी का उत्पादन करते है। इसलिए बच्चों को भी इसका ज्ञान प्राप्त करने के लिए यह जरूरी है कि उन्हें वास्तविक रूप से बताया जाय।

शैक्षणिक भ्रमण का उद्देश्य बच्चों में प्राकृतिक संसाधनों व भौगोलिक रुप से ज्ञान प्राप्त करना है। प्रभारी प्राचार्य ने बताया कि नेलसनार के अधिकांश में अध्ययनरत विद्यार्थियों ग्रामीण क्षेत्रों से आते है।शाउमावि के इस भ्रमण में साथी शिक्षक, शिक्षिकाओं का भी भरपूर सहयोग मिला रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close