बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सिम्स में अव्यवस्था के बाद भी मरीजों की संख्या में दिन प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रही है। सालभर पहले ओपीडी में हर दिन औसतन 900 मरीज आते थे। अब यह संख्या बढ़कर 1500 पहुंच गई है।

संभाग के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज में अक्सर मरीज सही उपचार नहीं मिलने की शिकायत करते हैं। इसके बावजूद मरीजों की संख्या में कमी आने के बजाय बढ़ोतरी हो रही है। साल भर पहले 900, छह महीने पहले 1200 और अब औसत ओपीडी 1500 पहुंच गई है। बीते सोमवार को 1558 और मंगलवार को 1466 लोग अपना उपचार कराने के लिए सिम्स पहुंचे थे। बीते एक महीने का औसत निकालने पर पता चला कि रोजाना 1500 लोग सिम्स में उपचार करा रहे हैं।

भर्ती मरीजों की संख्या भी बढ़ी

सिम्स की आइपीडी में भी बढ़ोतरी हुई है। रोजाना औसतन 100 से ज्यादा मरीजों को भर्ती किए जाते हैं। यहां सोमवार को 151 और मंगलवार को 123 मरीज को भर्ती किया गया। यही वजह ही यहां हमेशा सभी वार्ड भरे रहते हैं और कई मरीजों को बेड तक नहीं मिल पाता है।

पांच दिन का आंकड़ा

21 जून - ओपीडी 1403, आइपीडी 122

22 जून - ओपीडी 1536, आइपीडी 109

23 जून - ओपीडी बंद, आइपीडी 75

24 जून - ओपीडी 1558, आइपीडी 151

25 जून - ओपीडी 1466, आइपीडी 123

सिम्स की औसत ओपीडी बढ़ती जा रही है। रोजाना आने वाले मरीजों की संख्या 1200 से बढ़कर 1500 पहुंच गई है।

डॉ. आरती पांडेय

डिप्टी एमएस, सिम्स

Posted By: Nai Dunia News Network