बिलासपुर । सीएमएचओ डा. प्रमोद महाजन के औचक निरीक्षण में बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की ब्लाक मेडिकल आफिसर ही ढाई घंटे से नदारद मिलीं। जब सीएमएचओ अस्पताल पहुंचे तो तीन डाक्टर और 22 कर्मी भी नहीं पहुंचे थे। ऐसे में वे भड़क गए और तत्काल बीएमओ को तलब करते हुए उनके समेत सभी 26 को नोटिस थमाकर एक दिन का वेतन काटने का आदेश दिया।

सीएमएचओ डा. प्रमोद महाजन इन दिनों स्वास्थ्य महकमा को पटरी पर लाने के काम में जुट गए हैं। शहरी क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित होने वाले सरकारी अस्पताल का दौरा कर रहे हैं। जहां पर कमियां मिलने पर तत्काल सुधार कार्य शुरू करवा रहे हंै। साथ ही लापरवाही करने वाले अधिकारियों, चिकित्सक व अन्य कर्मचरियों के खिलाफ भी कार्रवाई कर रहे हैं। इसी के तहत शुक्रवार की सुबह 11 बजकर 36 मिनट में वे बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। वहां सुबह नौ बजे से ओपीडी संचालित हो रहा था, लेकिन इस दौरान केंद्र की बीएमओ डा. शुभा गढ़ेवाल खुद ही गायब मिलीं। जानकारी लेने पर पता चला कि तीन डाक्टर ओपीडी में नहीं हैं।

इसके अलावा नर्सिंग स्टाफ, वार्ड ब्वाय व अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी मिलाकर 22 भी गायब थे। यह बात सामने आई कि ये अभी तक अस्पताल पहुंचे ही नहीं हैं। जबकि इन्हें सुबह नौ बजे से ड्यूटी पर रहना था। यह बात सुनकर डा. महाजन भड़क गए। इसके बाद उन्होंने बीएमओ डा. शुभा गढ़ेवाल को बुलवाया और उन्हें कारण बताओ नोटिस थमा दिया। साथ ही अन्य 25 को भी नोटिस दिया गया है। साथ ही इनका एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए हैं।

अब तक 150 से ज्यादा पर कार्रवाई

सीएमएचओ डा. प्रमोद महाजन बीते 15 दिनों के भीतर लापरवाही करने वाले 150 से अधिक को नोटिस थमा चुके हैं। इसमें सीनियर से लेकर जूनियर डाक्टर तक शामिल हैं। लापरवाही करने वाले कर्मचारियों को भी नहीं छोड़ा जा रहा है। इससे पूरे स्वास्थ्य महकमा में हड़कंप मचा हुआ है।

बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के दौरान अधिकारी, चिकित्सक, कर्मचारी मिलाकर 26 नदारत मिले हैं। उन्हें कारण बताओ नोटिस दिया गया है। साथ ही एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए गए हंै। अब लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

डा. प्रमोद महाजन, सीएमएचओ

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local