बिलासपुर। Corona Fighter: जिले में सोमवार का फंगस का एक नया मरीज मिला है। उसके जबड़े में फंगस होने की पुष्टि चिकित्सकों ने किया है। वहीं एक मरीज के स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया है। मौजूदा स्थिति में रोजाना कोई न कोई फंगस का मरीज मिल रहा है। ऐसे में धीरे-धीरे मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। सोमवार को शहर के एक 40 वर्षीय युवक के संक्रमित होने की पुष्टि की गई है।

उसके जांच में जबड़े में फंगस मिला है। इसके बाद उसे फंगस वार्ड में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। वहीं एक 38 वर्षीय युवक का फंगस ठीक हो गया है। जांच में फंगस से मुक्त होने की पुष्टि होने पर उसे डिस्चार्ज कर दिया गया है। मौजूदा स्थिति में सिम्स में 19 मरीजों का उपचार चल रहा है। फंगस के नोडल अधिकारी डा. आशुतोष कोरी ने बताया कि पर्याप्त मात्रा में दवाओं का स्टाक उपलब्ध है। आने वाले एक सप्ताह तक दवाओं की कमी नहीं होगी।

सिम्स की कोविड नोडल अधिकारी डा. आरती पांडेय ने जिलेवासियों से कहा कि यदि किसी में फंगस के लक्षण मिल रहे हैं तो वे तत्काल अपना जांच कराने के लिए पहुंचे। समय पर फंगस का पचा चलने पर आसानी से इलाज किया जा सकता है। उन्होंने जानकारी दी कि यदि फंगस प्रारंभिक स्तर पर पकड़ आ जाता है तो कुछ ही दिनों में मरीज ठीक हो जाता है। लेकिन देरी करने से फंगस बढ़ सकता है और ऐसे दशा में मामला गंभीर हो सकता है। इसलिए फंगस के लक्षणों को गंभीरता लेते हुए तुरंत डाक्टर से डाक्टर से संपर्क करना चाहिए।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local