बिलासपुर। आरबी अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक महिला की मौत हो गई है। वहीं अब बढ़ते संक्रमण के बीच वायरस अपना घातक असर दिखाने लगा है। इसके साथ ही होम आइसोलेशन में चल रहे मरीज़ों की निगरानी बढ़ा दी गई है। अधिकारियों ने निर्देशित किया है कि जिस भी मरीज की हालत बिगड़ रही है, उसे अस्पताल में भर्ती कराया जाए, ताकि मरीज़ों के इलाज में किसी प्रकार की लापरवाही न हो।

ग्राम धुमा निवासी 72 वर्षीय सोनबाई यादव की तबीयत बिगड़ने लगी थी और उसमें कोरोना के लक्षण साफ नजर आ रहे थे। ऐसे में कोरोना जांच में उनके संक्रमित होने की पुष्टि की गई। इसके बाद उनका होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा था, लेकिन हालत में सुधार नहीं आया। ऐसे में 20 जून को उन्हें आरबी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं बुधवार की शाम उनकी मौत हो गई।

123 दिन बाद हुई है मौत

लगभग चार महीने से मौत का सिलसिला थमा हुआ था। इससे पहले बीते 16 फरवरी को एक 18 वर्षीय युवती की मौत हुई थी। इसके 123 दिन बाद फिर कोरोना से एक बुजुर्ग महिला की मौत हुई है। साफ है कि धीरे— धीरे कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है और इसके घातक परिणाम सामने आ रहे हैं।

गाइडलाइन का पालन करने की अपील

सीएमएचओ डा. प्रमोद महाजन का कहना है कि मामले लागातार बढ़ते ही जा रहे हैं। मौजूदा स्थिति में 54 मरीज सक्रिय हैं। ऐसे में अब फिर से कोरोना गाइडलाइन का पालन करना जरूरी हो गया है। लापरवाही की गई तो मामले बढ़ते ही जाएंगे। उन्होंने मास्क लगाने और फिजिकल डिस्टेंस का पालन करने की हिदायत दी है। साथ ही कोरोना लक्षण आने पर तत्काल कोरोना जांच कराने की सलाह दी है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close