बिलासपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के मुख्यालय सहित तीनों रेल मंडल में 73वां गणतंत्र दिवस पूरी गरिमा व परंपरा के अनुसार मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य कार्यक्रम मुख्यालय परिसर में सुबह नौ बजे महाप्रबंधक आलोक कुमार के मुख्य आतिथ्य में कोविड प्रोटोकाल के सभी नियमों का पालन करते हुए उत्साहपूर्वक आयोजित किया गया। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण यू-ट्यूब लिंक पर किया गया था।

इसमें बड़ी संख्या में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे कर्मचारी और उनके स्वजनों ने आनंद लिया। कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्य अतिथि आलोक कुमार द्वारा मुख्य सुरक्षा आयुक्त अमिय नंदन सिन्हा की अगुवाई में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इसके बाद उन्होंने रेल सुरक्षा बल के जवानों, सिविल डिफेंस एवं सेन्टजांस एम्बुलेंस के द्वारा तैयार किए गए आकर्षक परेड का निरीक्षण किया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने कहा की आज का दिन हम सभी के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। यह लोकतांत्रिक व्यवस्था व संविधान के प्रति हमारी आस्था को सुदृढ़ करता है। 168 वर्षो से भी अधिक समय से भारतीय रेलवे ने निरंतर हमारे देश की एकता, सामाजिक सौहार्द तथा जन सेवाओं को विकसित करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ बनाने में हमारी भूमिका महत्वपूर्ण रही है।

आज विश्व कोरोना की चुनौतियों का सामना कर रहा है। इस माहौल में भी दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे देश व समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रही है। लाकडाउन के दौरान भी हमारे कर्मवीरों ने रेल परिवहन के माध्यम से देश के कोने-कोने में खाद्यान, पेट्रोलियम तथा अन्य जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित की।

हमनें बिजली की निर्बाध आपूर्ति को बनाए रखने के लिए, ताप बिजलीघरों को लगातार कोयला पहुंचाया। प्रवासियों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल व अस्पतालों में आक्सीज़न की जरूरतों को पूरा करने के लिए आक्सीज़न एक्सप्रेस चलाई। इस दौरान हमारे अनेक साथी भी कोरोना से संक्रमित हो गए और उनमें से 247 साथियों ने अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए अपनी जान भी गंवा दी।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे अपने इन शहीद कर्मियों के प्रति कृतज्ञ है और इनके प्रति अपने दायित्यों का शत-प्रतिशत पालन करने को प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर गर्व है कि माल लदान में हमारा जोन सर्वाधिक माल लदान करने वाले जोनो में से एक है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में अब तक 165 मिलियन टन से अधिक की लोडिंग कर ली है, जो कि पिछले वित्तीय वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 16 प्रतिशत अधिक है। कार्यक्रम के अंत में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में आयोजित किए गए विभिन्न प्रतियोगिताओं के प्रतियोगियों के लिए पुरस्कार की घोषणा के साथ कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा की गई ।

सांस्कृतिक कार्यक्रम वर्चुअल

कार्यक्रम के आगे की कड़ी में वर्चुअल माध्यम से रेलवे सांस्कृतिक टीम के सदस्यों ने सुमधुर गीत प्रस्तुत किए। रेलकर्मियों एवं उनके स्वजनों तथा स्कूली बच्चों के द्वारा तैयार किए गए नृत्य, पेंटिंग व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी विडियोवाल के माध्यम से समारोह में प्रस्तुत किया गया।

नवनिर्मित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का शुभारंभ

इस अवसर पर महाप्रबंधक के द्वारा आनलाइन माध्यम से बिलासपुर में नवनिर्मित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, नार्थ ईस्ट इंस्टीट्यूट में बैडमिंटन कोर्ट एवं गोंदिया में रनिंग स्टाफ के लिए बेड सहित अतिरिक्त कमरे का शुभारंभ किया गया।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local