बिलासपुर। Education News: गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.आलोक चक्रवाल ने कहा कि इमारत तभी बुलंद बनती है जब उसकी नींव मजबूत हो। विश्वविद्यालय विद्यार्थियों के साथ उनके परिवार और समाज के हितों की रक्षा करता है। विद्यार्थी विश्वविद्यालय की छवि को समाज तक पहुंचाते हैं ऐसे में उनके सर्वांगीण हितों को प्रथामिकता दी जानी चाहिए।

सतर्कता जागरुकता सप्ताह के अवसर पर विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन के सभाकक्ष में बैठक हुई। छात्रहित में किए जा रहे सकारात्मक योगदान के विषय में विस्तार से चर्चा की गई। उपस्थित अधिकारियों एवं प्रभारी अधिकारियों द्वारा विश्वविद्यालय के विकास में किए जा रहे प्रयासों को पटल पर रखा गया। कुलपति प्रो.चक्रवाल ने अध्यक्षता करते हुए छात्रों को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं शोध हेतु उपलब्ध वातावरण एवं अन्य विषय में विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जाने में सभी के दृढ संकल्प सहयोग एवं समन्वय की नितांत आवश्यक होगी।

संस्थान उसके विद्यार्थियों, शिक्षको एवं कर्मचारियों के निस्वार्थ समर्पण से महान बनता है। गुरु घासीदास विश्वविद्यालय के पास देश-दुनिया के श्रेष्ठतम विश्वविद्यालयों की सूची में शामिल होने के लिए आवश्यक सभी संसाधन उपलब्ध हैं। हमें उन संसाधनों का पूर्णरूपेण उपयोग करते हुए अपनी ऊर्जा को सकारात्मकता के साथ दिशा देना है। हमें सभी कार्यों का संपादन पूरी निष्ठा, ईमानदारी और वांछित लक्ष्यों के प्राप्ति के उद्देश्य से करना है, इसमें हम सभी की प्रगति निहित है। बैठक में कुलपति प्रो.शैलेंद्र कुमार सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local