बिलासपुर। रेलवे संरक्षा विभाग के कर्मचारी सतर्क है और अपनी तत्परता से संभावित दुर्घटनाओं को रोक भी रहे हैं। ऐसे ही 11 कर्मचारियों का मंडल रेलवे प्रबंधक आलोक सहाय ने सम्मानित किया। उन्हें नकद पुरस्कार सके अलावा प्रशस्ति पत्र दिया गया। यह पुरस्कार पाकर सभी कर्मचारी खुश हुए। उन्हें इसी तरह ईमानदारी व मेहनत के साथ काम करने के लिए गया है। इससे दूसरे कर्मचारियों को भी प्रोत्साहन मिलेगा। ट्रेनों का सुरक्षित परिचालन हो रहा है,इसमें संरक्षा विभाग का अमला अलग महत्वपूर्ण योगदान है। केवल एक ही विभाग है, जहां के कर्मचारियों को हमेशा इसी तरह पुरस्कृत कर प्रोत्साहित किया जाता है। यह जरुरी भी है।

काम चाहे कोई भी जब तक उच्चाधिकारी प्रशंसा कर प्रोत्साहित नहीं करेंगे काम बेहतर ढंग से नहीं हो सकता। मंडल क्षेत्राधिकार के अंतर्गत विभिन्न् सेक्शन में ड्यूटी के दौरान सजगता एवं सतर्कता भरे कार्य करने वाले संरक्षा कोटि के कर्मचारियों को प्रोत्साहित भी किया जा रहा है। इसी संदर्भ में विगत दिनों रेल फ्रेक्चर, वेल्ड फ्रेक्चर, हॉट एक्सल, की पहचान करने तथा असुरक्षित परिस्थितियों में सजगता एवं सतर्कता भरे कार्य करते हुए संभावित दुर्घटनाओं को रोकने वाले मंडल के 11 कर्मचारियों को प्रोत्साहन स्वरूप संरक्षा पुरस्कार के लिए चयनित किया गया।

मंडल रेल प्रबंधक सभाकक्ष में आयोजित बैठक के दौरान मंडल रेल प्रबंधक आलोक सहाय ने सभी 11 कर्मचारियों को प्रोत्साहन स्वरूप नकद पुरस्कार एवं प्रशस्ति-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। मंडल रेल प्रबंधक द्वारा इनकी समर्पण सजगता एवं निष्ठापूर्ण भाव से किए गए त्वरित कार्य की सराहना भी की गई और कहा कि इसी तरह सतर्कता दिखाकर ट्रेनों के सुरक्षित परिचालन में अहम योगदान दें। रेलवे में टीम के साथ कार्य होता है। इस अवसर पर वरि.मंडल संरक्षा अधिकारी अनुराग कुमार सिंह, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक डा. पीसी त्रिपाठी, वरिष्ठ मंडल संकेत एंव दूरसंचार अभियंता भास्कर वर्मा सहित सभी शाखाधिकारी उपस्थित रहे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close