बिलासपुर। सरकंडा पुलिस ने पांच महीने पहले कियोस्क बैंक संचालक के मकान में चोरी के मामले में खरीदार महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में एक आरोपित पहले से ही जेल में बंद है। पुलिस ने चोरी के जेवर और मोबाइल जब्त कर आरोपितों को न्यायालय में पेश किया है।

सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि राजकिशोर नगर स्थित मस्जिद के पास रहने वाली अल्पना महंत कियोस्क बैंक का संचालन करती हैं। वे 17 जुलाई की रात मकान में सो रही थीं। इसी बीच चोरों ने मकान में घुसकर मोबाइल, सोने के जेवर और नकदी रकम पार कर दिया। इस दौरान मकान मालकिन अपनी बेटी सुष्मिता के साथ कमरे में ही सो रही थीं। उन्हें चोरी की भनक तक नहीं लगी। महिला ने इसकी शिकायत सरकंडा थाने में की। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर चोरों की तलाश कर रही थी।

इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि एक युवक चोरी के मोबाइल बेचने का प्रयास कर रहा है। सूचना पर पुलिस ने तखतपुर क्षेत्र के खपरी में रहने वाले मुकेश गुप्ता(24) को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इस पर युवक ने अपने साथी वीर सिंह के साथ चोरी करना स्वीकार किया। पूछताछ में पता चला कि वीर सिंह चोरी के मामले में जेल में बंद है। इस पर पुलिस ने जेल में बंद युवक से पूछताछ की।

इसमें पता चला कि उसने चोरी के जेवर तारबाहर क्षेत्र के चंदुआभाठा में रहने वाली जानकी चौहान(55) को बेचा है। इस पर पुलिस ने महिला के कब्जे से चोरी के जेवर जब्त कर लिए। पुलिस ने आरोपित मुकेश और जानकी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local