राधाकिशन शर्मा, बिलासपुर। Bilaspur News: अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने देशभर के प्रदेश कांग्रेस कमेटी को पत्र लिखकर चुनाव पर होने वाली लाइव परिचर्चा में प्रवक्ताओं को शामिल ना होने की हिदायत दी है। एआईसीसी ने पार्टी के अधिकृत प्रवक्ताओं को अखबारों में अधिकृत बयानबाजी से भी मना कर दिया है। कांग्रेस आलाकमान द्वारा जारी निर्देश के बाद अब प्रवक्ता इस तरह के कार्यक्रमों से दूरी बनाने लगे हैं साथ ही बयानबाजी से भी बचते फिर रहे हैं।

रविवार को बंगाल,तमिलनाडु,केरल,असम,पुडुचेरी के अलावा राजस्थान उपचुनाव के परिणाम की घोषणा की गई। बंगाल में तृणमूल कांग्रेस तीसरी मर्तबे सत्ता में काबिज होने में सफल रही।

केरल और असम का चुनाव परिणाम कांग्रेस के लिए बेहद निराशाजनक रहा। असम में सत्ता वापसी के लिए कांग्रेस ने जोर लगाया। आलाकमान ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को असम में सत्ता वापसी की जिम्मेदारी सौंपी थी। सीएम के करीबियों ने असम में मोर्चा संभाला था। वही टीम थी जिसने छत्तीसगढ़ मंे जमकर काम किया और 15 साल का वनवास खत्म किया था। उम्मींद की जा रही थी कि असम में छत्तीसगढ़ माडल का जोर रहेगा और सत्ता में कांग्रेस जोरदार तरीके से वापसी करेगी। ऐसा नहीं हुआ। सीएम के करीबियों के साथ ही उन पदाधिकारियों को निराशा हुई जिन्होंने असम में बीते एक महीन से अपने प्रभार वाले विधानसभा क्षेत्रों में मोर्चा संभाल रखा था।

उम्मीद थी कि असम में कांगे्रस की सत्ता वापसी के साथ ही उनको भी लालबत्ती मिलेगी। सियासी उम्मीदों पर चुनाव परिणाम ने पानी फेर दिया है। केरल ने भी कांगे्रस को निराश किया है। चुनाव परिणाम के बाद अब मीडिया में विश्लेषण का दौर चल रहा है। इलेक्ट्रानिक मीडिया में बकायदा लाइव परिचर्चा शुरू हो चूकी है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने सतर्कता बरतते हुए देशभर के प्रदेश कांग्रेस कमेटी को फैक्स के जरिए भेजे संदेश में पार्टी के अधिकृत प्रवक्ताओं को लाइव परिचर्चा के अलावा अखबारांे में बयानबाजी से दूर रखने की हिदायत दी है। एआइसीसी के पत्र का हवाला देते हुए पीसीसी ने अपने अधिकृत प्रवक्ताओं को स्थानीय स्तर पर आयोजित होने वाले चुनावी परिचर्चा में शामिल ना होने का निर्देश दिया है। इसके अलावा अखबारों में चुनाव परिणाम को लेकर बयानबाजी से दूर रहने की सलाह दी है।

कोरोना संक्रमण को बताया कारण

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने अपने पत्र में कोरोना संक्रमण की खतरनाक होती स्थिति का विशेषतौर पर जिक्र किया है। कहा है कि देश मंे कोरोना के कारण उत्पन्न् परिस्थितियों को देखते हुए पार्टी द्वारा अधिकृत प्रवक्ताओं को चुनावी परिचर्चा में शामिल होने से बचना चाहिए। किसी भी लाइव परिचर्चा में भाग नहीं लेंगे।

वर्जन

एआइसीसी के निर्देशों का पालन गंभीरता के साथ किया जाएगा। पीसीसी ने एआइसीसी के पत्र का हवाला देते हुए पार्टी के अधिकृत प्रवक्ताओं को देश में कोरोना के कारण उत्पन्न् विषम परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए चुनावी परिचर्चा में भाग ना लेने का निर्देश दिया है। स्थानीय स्तर पर भी पार्टी के पदाधिकारियों को इस तरह की परिचर्चा में शामिल ना होने व बयानबाजी से दूर रहने कहा जा रहा है।

अभयनारायण राय-प्रवक्ता,पीसीसी छग

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags