बिलासपुर। कोरोना महामारी ने प्रदेश के वरिष्ठतम नेत्री करुणा शुक्ला को हमसे दूर कर दिया। उनका जाना प्रदेश की राजनीति जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। एक बड़ी बहन के रूप में उनका आशीर्वाद हमेशा मिला।

पूर्व मंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता अमर अग्रवाल ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेत्री करुणा शुक्ला के निधन पर श्रद्घांजलि अर्पित करते हुए उक्त बातें कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में जाने से पहले करुणा शुक्ला भारतीय जनता पार्टी से सांसद रहीं तथा भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष भी रहीं। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद पर उन्होंने संगठन को अपनी सेवाएं दी।

हालाकि वे कांग्रेस में चली गईं। लेकिन परिवार की बड़ी बहन की तरह हमेशा उनका स्नेह, प्रेम और आशीर्वाद बना रहा। उनके निधन से छत्तीसगढ़ की राजनीतिक जगत को अपूरणीय क्षति हुई है। अग्रवाल ने श्रद्घांजलि व्यक्त करते हुए बताया करुणा भाभी ने स्वच्छ छवि और सजग राजनीतिज्ञ के रूप में छत्तीसगढ़ की राजनीतिक यात्रा में खुद को को सफल मुकाम तक पहुंचाया।

दुर्भाग्य है कि वे आज हमारे बीच नहीं रहीं। अग्रवाल ने पिछले दिनों अपोलो अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती डीएलएस शिक्षण समिति के अध्यक्ष व नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष बसंत शर्मा के निधन पर भी शोक व्यक्त किया है।

उन्होंने स्व.शर्मा के स्वजनों को दुख सहन करने का संबल प्रदान करने के लिए ईश्वर से कामना की। मालूम हो कि कोरोना संक्रमण के कारण कांग्रेस नेत्री करुणा शुक्ला को रायपुर स्थित श्रीरामकृष्ण हास्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार रात करीब 12ः40 बजे उनका निधन हो गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close