अंबिकापुर।Ambikapur News: सरगुजा कलेक्टर से शहर अनलाक होने के बाद ग्रंथालय की खल रही कमी की ओर अजीत जोगी छात्र संगठन के सरगुजा संभाग ने ध्यान दिलाया है। इस संबंध में सौंपे गए ज्ञापन पत्र में कहा गया है कि शैक्षणिक संस्थाएं बंद हैं, महाविद्यालय एवं विद्यालयों की परीक्षाएं आनलाइन संचालित हो रही हैं।

जो विद्यार्थी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके पढ़ने का एकमात्र माध्यम ग्रंथालय है, उन्हें काफी दिक्कतों से गुजरना पड़ रहा है। कई प्रतियोगी परीक्षा की तिथि निकट है, जिसे लेकर विद्यार्थी काफी परेशान हैं। हर विद्यार्थी पांच सौ या हजार रुपये की पुस्तक नहीं खरीद सकता, इसलिए उसका एकमात्र माध्यम ग्रंथालय है।

ऐसे में ग्रंथालय को कोविड-19 के गाइडलाइन के साथ खोलने के अनुमति का आदेश देने का आग्रह किया गया है, जिससे प्रतियोगी परीक्षा के लिए पुस्तकालय की पुस्तकों का वे उपयोग कर सकें। छात्र संगठन ने छात्रहित में ग्रंथालय को जल्द से जल्द खोलने की अनुमति देने का आग्रह किया है।

कोरोना संक्रमण की वजह से पिछले डेढ साल से स्कूल और कालेज में पढाई ठप है। हालांकि छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए आनलाइन पढाई की व्यवस्था की है। साथ ही आनलाइन परीक्षाएं भी आयोजित की जा रही हैं।

लाकडाउन के कारण कई परिवारों की आर्थिक स्थिति खराब है। लोग फीस के साथ स्कूल की बुक भी नहीं खरीद पा रहे हैं। यही वजह है कि छात्र संगठन आगे आया हैै। ज्ञापन सौंपने के दौरान संगठन के संभागीय अध्यक्ष रचित मिश्रा के नेतृत्व में सरगुजा जिला अध्यक्ष रणवीर सिंह, गणेश मिश्रा, पीयूष, प्रथम कश्यप, हर्ष गुप्ता उपस्थित रहे।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags