bilsapur news: रायगढ खरसिया के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व द्वारा 25 नवंबर को क्रमांक 15 की सड़कों को नीलाम किए जाने की तैयारी की जा रही थी। वार्ड़वासियों के विरोध के बाद इसे निरस्त कर दी गयी है। वार्ड़वासियों ने सड़क को बेचने का विरोध किया था तथा लिखित आपत्ति जिला कलेक्टर और खरसिया नजूल अधिकारी के समक्ष दर्ज कराई गई।

नगर के वार्ड़ क्रमांक 15 के खसरा नंबर 445/1 में स्थित दो सड़कों को रिक्त भूमि बताते हुए एसड़ीएम के द्वारा नीलाम की जा रही थी। इस पर वार्ड़पार्षद सहित मोहल्लेड़वासियों ने आपत्ति दर्ज कराई। नगर पालिका अध्यक्ष राधा शर्मा तथा पूर्व पार्षद विकास अग्रवाल ने वार्ड़वासियों की परेशानी को देखते हुए क्षेत्रीय विधायक और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल को वस्तुस्थिति से अवगत कराया गया। इस पर उनके द्वारा खरसिया एसड़ीएम को वार्ड़वासियों की समस्या का निराकरण करने का निर्देश दिया गया। इसके बाद खरसिया एसड़ीएम गिरीश रामटेके ने नायब तहसीलदार विवेक पटेल, नगर पालिका सीएमओ टामसन रात्रे और राजस्व निरीक्षक ब्रिजेश शर्मा की टीम को मौका मुआयना कर प्रतिवेदन देने का आदेश दिया।

एसड़ीएम कर रहे थे वार्ड़ की सड़क को नीलाम

जांच टीम ने मौका मुआयना किया और पाया कि नीलामी के लिए प्रस्तावित भूमि पर सड़क है। जांच टीम की रिपोर्ट के बाद नजूल अधिकारी ने सड़क की नीलामी को निरस्त कर दिया। वार्ड़वासियों ने खरसिया एसड़ीएम के द्वारा नियम विरूद्व किए जा रहे सड़क की नीलामी को निरस्त किए जाने पर क्षेत्रीय विधायक और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष राधा शर्मा तथा पूर्व पार्षद विकास अग्रवाल का आभार व्यक्त किया।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस