बिलासपुर। Bilaspur Railway News: जोनल स्टेशन के गेट क्रमांक चार पर आटो चालकों की भीड के कारण हो रही अव्यवस्था ठीक करने आरपीएफ ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पहले आटो को पार्किंग से हटाया गया। अब चालकों को यात्रियों से दूरी बनाने के लिए बाहर रोक दिया जा रहा है। गेट के नजदीक जाने से रोका जा रहा है।

कोरोना वायरस के कारण जोनल स्टेशन में केवल दो गेट ही खुले हैं। एक से प्रवेश और दूसरे से यात्री बाहर निकलते हैं। बाहर निकलने के लिए गेट क्रमांक चार को चिंहित किया गया है। आटो चालकों को रेलवे की यह व्यवस्था मालूम है इसलिए वे आटो को लेकर गेट क्रमांक चार के सामने खडे हो जाते थे। अव्यस्थित खडी आटो से चुचुहियापारा मार्ग जाम हो जाता था।

इतना ही नहीं चालक गेट पर यात्रियों को घेर लेते थे। जिसके कारण उन्हें परेशानियां होती थी। कोरोना बचाव के लिए जारी गाइड— लाइन शारीरिक दूरी का भी उल्ल्घन हो रहा था। चालकों की इस हरकत से परेशान यात्री कई बार आरपीएफ को शिकायत भी कर चुके हैं। इसे देखते हुए ही पूर्व गेट के बाहर से आटो स्टैंड हटाया गया। इसके बाद भी चालक पहुंच रहे थे।

आरपीएफ ने अव्यवस्था ही ठीक करने के लिए सोमवार से एक नई व्यवस्था लागू की है। जिसके तहत दो बल सदस्यों को गेट बाहर तैनात किया गया है। आरपीएफ के जवान आटो चालकों को दूर रोक रहे हैं। इस व्यवस्था का असर भी दिखा। यात्री गेट से बडी आसानी से उतरकर आटो तक पहुंच रहे हैं। इसके बाद किराया तय कर गंतव्य के लिए रवाना होते नजर आए।

आटो खडी की तो होगी कार्रवाई

आरपीएफ ने चालकों को निर्देश दिया है कि गेट क्रमांक चार के बाहर आटो स्टैंड नहीं है। रेलवे ने जहां चिंहित किया है वही आटो खडी करनी है। इस गेट में यदि एक भी आटो खडी हुई तो चालक के खिलाफ रेलवे अधिनियम की धारा 159 के तहत अपराध दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले आटो जब्त भी किया जाएगा।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस