बिलासपुर। Award to Bilaspur Railway Division: बिलासपुर को सबसे बेहतर रेल मंडल के पुरस्कार से नवाजा गया है। इसके अलावा रखरखाव के लिए भी जोनल स्टेशन ने बाजी मारी। 66वां रेल सप्ताह समारोह के दौरान दोनों उपलब्धि के लिए महाप्रबंधक के हाथों शील्ड प्रदान किया गया। वहीं उत्कृष्ट कार्य करने वाले 10 अधिकारी व 139 कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा आयोजित रेल सप्ताह समारोह का आयोजन कोविड - 19 के सभी आवश्यक नियमों का पालन करते हुए वर्चुअल माध्यम से 18 से 24 जून तक आयोजित हुआ। इस दौरान दो दिन समारोह के दोनों पालियों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों, कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। वहीं गुरुवार को शाम चार बजे जोन बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर स्थित कांफ्रेंस हाल में शील्ड वितरण और कार्यक्रम का समापन किया गया।

मुख्य अतिथि जोन के महाप्रबंधक गौतम बनर्जी थे। इस अवसर पर सेक्रो अध्यक्ष इंदिरा बनर्जी व सभी विभागाध्यक्ष के अलावा तीनों मंडलों के रेल प्रबंधक उपस्थित थे। अन्य अधिकारी व कर्मचारी वर्चुअल जुड़े रहे। उद्घाटन के बाद उप महाप्रबंधक (सामान्य) तन्मय माहेश्वरी ने भारतीय रेलवे के गौरवाशाली इतिहास पर प्रकाश डाला। इसके बाद वित्तीय वर्ष 2020-21 के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले सभी रेल मंडलांे व विभागांे को महाप्रबंधको के हाथों शील्ड वितरण किया गया।

तीनों रेल मंडल के विभिन्न् विभागों को 47 उत्कृष्टता शील्ड दिए गए। साथ ही हर मापदंड पर बेहतर कार्य करने के लिए बिलासपुर रेल मंडल को पुरस्कार दिया गया। यह पुरस्कार बिलासपुर रेल मंडल के डीआरएम आलोक सहाय ने लिया। इस बीच ए व बी श्रेणी के स्टेशनों में बिलासपुर को उत्कृष्ट रखरखाव शील्ड से नवाजा गया।

ऐसे हुई परंपरा की शुरुआत

भारत में पहली बार ट्रेन 16 अप्रैल 1853 में मुंबई से थाणे के बीच चली थी। इस ऐतिहासिक पल की याद में रेल मंत्रालय समेत सभी क्षेत्रीय रेलवे, वर्कशाप, यूनिट व मंडल में हर साल रेल सप्ताह मनाया जाता है। इस दौरान बीते वित्तीय वर्ष मंे उत्कृष्ट कार्यों के लिए अधिकारी व कर्मचारियों को प्रोत्साहन स्वरूप पुरस्कृत किया जाता है। कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार समय पर आयोजन नहीं हुआ। गुरुवार को भी केवल गिनती के अधिकारियों की उपस्थिति रही।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local