बिलासपुर। Bilaspur Corona News: आम आदमी पार्टी ने सरकार को आगाह करते हुए कहा है कि छत्तीसगढ़ से दूसरे राज्यों में पलायन करने वाले प्रवासी श्रमिक बड़ी संख्या में सीधे अपने घरों को लौट रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर यह बेहद खतरनाक स्थिति है। इसके बाद भी राज्य सरकार सो रही है।

पार्टी के जिला कोषाध्यक्ष संजय अग्रवाल का कहना है कि गत वर्ष जब देश भर में कोरोना महामारी की वजह से हाहाकार मचा हुआ था और एक साथ लाकडाउन हुआ तब छत्तीसगढ़ में संक्रमण की दर बहुत मामूली थी पर जब प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी हुई, तब संक्रमण की रफ्तार तीव्र हो गई।

संक्रमण की इस दूसरी लहर में देश के अन्य राज्यों में अलग-अलग समय पर लाकडाउन हो रहा है और रेल सेवाएं भी जारी है। इससे अन्य राज्यों से प्रवासी छत्तीसगढ़ वापस आ रहे हैं और सीधे अपने घर जा रहे हैं। पिछली बार सरकार की ओर से प्रवासी मजदूरों के लिए क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए थे। इससे ग्रामीण अंचलों में कोरोना संक्रमण की दर कम थी।इस बार क्वारंटाइन सेंटर नहीं बनाए गए हैं, ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों में भी संक्रमण की दर बढ़ रही है।

इस बार जो प्रवासी मजदूर वापस आ रहे हैं, उनका कहना है कि पिछली बार क्वारंटाइन सेंटर का अनुभव बहुत कड़वा था। सेंटरों में खानपान सहित अन्य सुविधाओं की दयनीय स्थिति थी। वहीं सेंटर के कर्मचारियों एवं ग्रामीणों का व्यवहार भी बहुत खराब था। अगर सरकार सुविधायुक्त क्वारंटाइन सेंटरों की व्यवस्था बनाए तो हम अपने स्वजनों को खतरे में डालने घर क्यों जाएंगे।इसे देखते हुए सरकार से सुविधायुक्त सेंटर बनाने की मांग की गई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags