Bilaspur Crime News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। तीन दिन पहले सरकंडा क्षेत्र के 13 वर्षीय बालिका का युवक और दो महिलाओं ने अपहरण कर बंधक बना लिया। इस दौरान आरोपितों ने जूस में नशीली दवा मिलाकर बेहोशी की हालत में बालिका से देह व्यापार कराया। मामले की सूचना मिलने पर सरकंडा पुलिस ने दबिश देकर बालिका को दलालों के कब्जे से सुरक्षित बरामद किया। इस मामले में पुलिस ने युवक समेत दो महिलाओं को भी गिरफ्तार किया है। वहीं, बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले व्यक्ति की तलाश की जा रही है।

सरकंडा थाना क्षेत्र से रहने वाली 13 वर्षीय बालिका 30 नवंबर को घर से गायब हो गई थी। स्वजन आसपास खोजबीन कर रहे थे। अपने रिश्तेदार व बालिका की सहेलियों से संपर्क किया। इस बीच पता चला कि तीन दिन पहले लोखंडी के रहने वाला मोहम्मद सिराज के साथ बालिका घुमते हुए दिखी गई थी। एक दिसंबर को स्वजन ने सरकंडा थाना में शिकायत की। साथ ही मोहम्मद सिराज और बिपासा डेविड पर अपहरण करने का आरोप लगाया।

बालिका को बंधक बनाकर छुपाकर रखने की जानकारी दी। सरकंडा पुलिस की टीम शनिवार को संदेहियों के घर पर दबिश देकर बरामद किया। पूछताछ में पता चला की ये लोग दलाली का काम करते हैं। तीनों ने योजना बनाकर बालिका का अपहरण किया। इस दौरान जूस में नशीली दवाई पिलाकर उसे बेहोश करते थे। फिर ग्राहक बुलाकर किशोर के साथ दुष्कर्म करवाते थे। पुलिस ने बताया कि दो दिन पहले तीनों दलालों ने नशीली जूस पिलाकर बालिका को बेहोश किया।

फिर एक आदमी घर आया। वह आदमी बालिका के साथ दुष्कर्म किया। इस बीच बालिका कुछ समय के लिए होश में आई। तब उन्होंने गलत काम करते हुए एक आदमी को देख लिया। लेकिन बालिका उस आदमी को नहीं पहचान पा रही है। पुलिस ने आरोपित सरिता डेविड (36), मोहम्मद सिराज (19), बिपाशा डेविड (18) सभी निवासी सकरी थाना के ग्राम लोखंडी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close