बिलासपुर। Bilaspur Crime News: कोटा ब्लाक के बेलगहना क्षेत्र स्थित बरभाठा में जमीन विवाद पर पड़ोसी ने ग्रामीण की हत्या के बाद शरीर को दो हिस्सों में काटकर सागौन नर्सरी में फेंक दिया। वहीं, मृतक की पहचान छिपाने के लिए सिर को काटकर जंगल में फेंक दिया। शव के सड़ने पर ग्रामीणों को इसकी जानकारी हुई। पुलिस जुर्म दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

बेलगहना चौकी प्रभारी अजय वारे ने बताया कि बुधवार की शाम सूचना मिली कि बरभाठा स्थित सागौन प्लाट में अज्ञात व्यक्ति की बोरे में लाश मिली है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पानी भरे गड्ढे से बोरे को निकलवाया। इसके बाद शव निकालकर इसकी पहचान की कोशिश की गई। इस दौरान गांव के सनमान सिंह अगरिया ने मृतक की धोती से उसकी पहचान अपने पिता कुंवर सिंह के रूप में की।

पूछताछ में सनमान सिंह ने बताया कि उनके पिता 31 जुलाई की शाम सात बजे घर में बिना बताए चले गए थे। खोजबीन के बाद उन्होंने इसकी शिकायत बेलगहना चौकी में की। इस पर बेलगहना पुलिस गुम इंसान दर्ज कर उनकी तलाश कर रही थी। वहीं, सनमान सिंह रिश्तेदारी में कुंवर सिंह की तलाश कर रहे थे। चार अगस्त की दोपहर सागौन प्लाट में बदबू आने पर ग्रामीणों ने पानी भरे गड्ढे में देखा। बोरे में किसी इंसान के शरीर का अंग दिख रहा था। इस पर पुलिस ने मौके पर पहुंची।

शरीर को कमर से दो हिस्सों में काटकर बोरी में डाला गया था। मृतक का सिर गायब था। मृतक के पुत्र सनमान की शिकायत पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी। जांच में पता चला कि मृतक का पड़ोसी धूरसिंह पटेल से जमीन संबंधी विवाद चल रहा था। इस पर पुलिस ने धूरसिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इसमें उसने हत्या की बात स्वीकार कर ली। आरोपित ने बताया कि उसने मृतक की पहचान छिपाने के लिए सिर को काटकर जंगल में फेंक दिया था। इस पर पुलिस ने जंगल से मृतक का सिर बरामद कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

सुनसान गली में गला दबाकर की थी हत्या

आरोपित ने बताया कि 26 जुलाई की रात मृतक अपने घर के पास ही मिल गया था। रात होने के कारण गली में कोई नहीं था। इसका फायदा उठाते हुए आरोपित ने कुंवर सिंह का गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को सागौन प्लाट ले गया। शव छोड़कर वह अपनी बाड़ी से हंसिया और बोरी लेकर आया। आरोपित ने हंसिया से शव को टुकड़ों में काटकर फेंक दिया।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local