बिलासपुर। Bilaspur Crime News: कोतवाली पुलिस ने चोरी का सोने-चांदी गलाने की आशंका पर गोंडपारा स्थित रिफाइनरी में गुस्र्वार की शाम छापा मारा। इस दौरान पुलिस को बड़ी मात्रा में चांदी की सिल्लियां मिलीं। वहीं, चार क्विंटल तांबे का चूर्ण भी बरामद हुआ। पूछताछ के बाद संचालक के सहयोगी के भी ठिकाने में दबिश दी गई। कार्रवाई में कुल मिलाकर 40 किलो चांदी की सिल्लियां जब्त हुई हैं। इसका बिल प्रस्तुत नहीं करने पर पुलिस ने संचालक और उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, उसका पार्टनर फरार है।

कोतवाली सीएसपी स्नेहिल साहू ने बताया कि गोंड़पारा में शिवआई सिल्वर रिफाइनरी है। महाराष्ट्र के सांगली जिला स्थित अटपडी क्षेत्र अंगतर्गत बुनेवाड़ी निवासी नवनाथ एवले गोंडपारा इसका संचालन करता है। पुलिस को सूचना मिली थी कि रिफाइनरी में चोरी के जेवर गलाए जा रहे हैं। इस पर कोतवाली पुलिस ने दबिश दी। मौके पर बड़ी मात्रा में चांदी की सिल्लियां मिलीं। वहीं, चार क्विंटल तांबे का चूर्ण भी रखा था। इस संबंध में पूछताछ करने पर रिफाइनरी के संचालक कहा कि उसके पास चांदी और तांबे का बिल है।

साथ ही अपने पार्टनर ब्रह्मदेव के साथ मिलकर कच्ची चांदी को गोंड़पारा निवासी विजय सालोखे के पास रखने की जानकारी दी। इस पर पुलिस ने विजय के ठिकाने पर दबिश देकर चांदी जब्त की। दोनों जगह से कुल 40 किलो चांदी की सिल्लियां बरामद की गई हैं। इस बीच उसका पार्टनर ब्रम्हदेव फरार हो गया। चोरी के माल होने की आशंका पर पुलिस ने विजय सलोखे और नवनाथ एवले को गिरफ्तार कर लिया है।

रजिस्टर जब्त कर जांच कर रही पुलिस

पूछताछ में आरोपित नवनाथ एवले ने बताया कि वह ज्वेलरी शॉप के संचालकों से गलाने के लिए जेवर लेता है। इसके अलावा वह खुद पुराने जेवर खरीदकर गलाता था। इसके दस्तावेज वह पुलिस को नहीं दे पाया। पुलिस ने रिफाइनरी से एक रजिस्टर जब्त किया है। इसमें सोना-चांदी गलवाने वाले ज्वेलरी शॉप संचालकों के नाम है। पुलिस इसकी जांच कर तस्दीक कर रही है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local