Bilaspur Crime News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। सिविल लाइन थाना अंतर्गत मिशन हास्पिटल की बगल में संचालित मिनी चौपाटी के दुकान संचालकों और सिम्स (मेडिकल कालेज) के एमबीबीएस स्टूडेंट्स के बीच शनिवार की रात लगभग 10 बजे जमकर मारपीट हुई। दुकान संचालकों ने राड, लाठी और तलवार से मारने के लिए छात्रों को दौड़ाया। इस पर छात्रों ने भागकर अपनी जान बचाई। मारपीट की घटना में पांच छात्र घायल हुए हैं। वहीं कुछ दुकानदारों को भी चोट लगी है। इसके बाद दोनों पक्ष अपराध दर्ज करवाने सिविल लाइन थाना पहुंच गए। इस दौरान पुलिस ने दोनों पक्षों की बात सुनी। इस मामले में देर रात तक अपराध दर्ज नहीं हो पाया।

सिम्स के एमबीबीएस और पीजी के तीन छात्र पुलिस पेट्रोल पंप के पास घूमने आए थे। वहां से रात 10 बजे पैदल सिम्स हास्टल लौट रहे थे। तीनों छात्र मिशन अस्पताल की बगल में स्थित मिनी चौपाटी के पास पहुंचे थे। इसी दौरान तीन युवक आए और छात्रों के साथ जबरन गाली-गलौज करने लगे। छात्रों ने विरोध किया तो तीनों युवकों ने मारपीट शुरू कर दी । इस बीच मिनी चौपाटी की दुकान संचालक स्टाफ के साथ बाहर निकलकर छात्रों के साथ मारपीट करने लगे।

सूचना मिलते ही सिम्स हास्टल के अन्य छात्र भी वहां पहुंच गए। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई। घायल छात्रों का कहना है कि दुकानदारों ने जान से मारने के लिए राड, लाठी और तलवार निकाल लिए थे । वहां से भागकर जान बचाई । वहीं, दुकान के घायल कर्मचारी आकाश यादव का कहना है कि सिम्स के स्टूडेंट्स पहले से ही दुकान के बाहर किसी के साथ विवाद कर रहे थे। बीच बचाव करने पहुंचे तो स्टूडेंट्स उल्टा हमारे साथ मारपीट की। दोनों पक्ष की ओर से सिविल लाइन थाने में लिखित शिकायत हुई है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close