बिलासपुर। Bilaspur Crime News: सरकंडा क्षेत्र की सराफा दुकान से चोरी के बाद आरोपित दुकान संचालक के चाचा के पास जेवर बेचने के लिए पहुंच गए। मामले में पुलिस ने चोरी के दो आरोपित समेत उसके दोस्तों को भी गिरफ्तार किया है। गोंड़पारा में रहने वाले मनीष सोनी ने चोरी की शिकायत की थी। उन्होंने बताया कि ज्वेलरी शाप के टीन शेड को काटकर चोरों ने सोने-चांदी के जेवर पार कर दिए हैं। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर चोरों की तलाश कर रही थी। जांच के दौरान चोरों का सुराग नहीं मिल रहा था।

इस पर पुलिस ने ज्वेलरी शाप के संचालकों को मामले की जानकारी देकर संदेहियों की सूचना देने कहा था। शनिवार को बंधवापारा में रहने वाला अजीत साहू(30) चांदी के जेवर बेचने के लिए सरकंडा स्थित दिव्या ज्वेलर्स में पहुंचा। उसने चांदी के सिक्के बेचने की बात कही। ज्वेलरी शाप के संचालक ने संदेह होने पर अपने भतीजे मनीष को इसकी जानकारी दी। साथ ही सिक्कों की तस्वीर भी उनके मोबाइल पर भेज दी। अपने सामान का पहचान कर मनीष ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। इस बीच दिव्या ज्वेलर्स के संचालक ने संदेहियों को अपनी बातों में उलझाकर रखा था। पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर अजीत को हिरासत में ले लिया।

पूछताछ में वह गोल-मोल जवाब दे रहा था। कड़ाई करने पर उसने अपने साथी सादिक उर्फ असद सिद्दिकी(26) निवासी तालापारा के साथ चोरी करना स्वीकार कर लिया। असद ने बताया कि उसने कुछ सामान को खपाने के लिए जबड़ापारा में रहने वाले शिवा केंवट(34) और लगरा निवासी विनय विश्वकर्मा(30) को दिया है। वहीं, विनय ने कुछ सामान को मनोज वर्मा(33) निवासी पंधी को देने की जानकारी दी। मामले में पुलिस ने सभी आरोपित को गिरफ्तार कर चोरी का सामान जब्त कर लिया है। एक आरोपित सुनील यादव फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close